Home > ख़बरें > चीन ने दी धमकी तो इज़राइल ने लिया बड़ा फैसला, चीन समेत पाक को बर्बाद कर गया मोदी का इज़राइल दौरा

चीन ने दी धमकी तो इज़राइल ने लिया बड़ा फैसला, चीन समेत पाक को बर्बाद कर गया मोदी का इज़राइल दौरा


नई दिल्ली : इस वक़्त पीएम मोदी इजराइल के तीन दिन के दौरे पर हैं. आपका बता दें 70 सालों में ऐसा पहली बार हो रहा है जब कोई भारतीय प्रधानमंत्री इजराइल जा रहा है. इजराइल भारत का सच्चा मित्र है उसने हर बार युद्ध में बड़ी मदद करी है. इसीलिए एयरपोर्ट पर खुद इज़रायली पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने प्रोटोकॉल तोड़कर पीएम मोदी का स्वागत किया और उन्हें सबसे अच्छा दोस्त बताया है. लेकिन इस दौरे से भारत को जो सबसे खास ऐसा हथियार मिलेगा जिससे पाकिस्तान समेत चीन के भी परखच्चे उड़ जायेंगे.

इजराइल का पीएम मोदी को तोहफा, आ रहा है पाकिस्तान और चीन की तबाही का सामान,

इस वक़्त भारत चीन सीमा पर बहुत गरमा गर्मी हो गयी है. चीन लगातार भारत को युद्ध के लिए उकसा रहा है यहाँ तक की उसने अपनी पनडुब्बियां भी हिन्द महासागर पर उतार दी हैं. इसीलिए पीएम मोदी का इस वक़्त इजराइल दौरा बहुत महत्वपूर्ण हो गया है. इस दौरे पर सबसे अहम बात है कि इजराइल भारत को बेहद खतरनाक 10 हेरॉन ड्रोन मिसाइल से लैस देगा. अभी इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भी भारत को किसी भी कोने में छुपे आतंकी का पता लगाने वाले ड्रोन दिए थे. लेकिन इजराइल जो ड्रोन दे रहा है वो तो बेहद खतरनाक है.

भारतीय वायुसेना की ताकत में बड़ा इजाफा, लम्बे वक़्त से थी ऐसे ही हथियार की तलाश, पाकिस्तान में मची खलबली

यह पहला ऐसा ड्रोन है जो मिसाइल से लैस है. इसी हथियार की भारत को कबसे तलाश थी. हेरॉन टीपी ड्रोन से पीओके के टेरर कैंप के साथ-साथ आतंकवादी सलाहुद्दीन, हाफिज मोहम्मद सईद, मौलाना मसूद अजहर और दाऊद इब्राहिम जैसे मोस्ट वांटेड आतंकवादियों पर भारत से ही निशाना लगाया सकता है. ख़बरों के मुताबिक, इजराइल के साथ भारत के सैन्य समझौते से पाकिस्तान में खलबली मच गयी है.


कहीं भी छुपे हो भारत के दुश्मन ढूंढ कर चीथड़े उदा देगा

हेरॉन टीपी-मिसाइल से लैस ड्रोन को दुश्‍मन के अड्डों का पता लगाने, दुश्‍मनों को ट्रैक करने और जमीन से हवा में फायर की गई मिसाइल को मार गिराने जैसे कामों में महारत हासिल है. इनकी तुलना अमेरिका के प्रिडेटर और रीपर ड्रोन से की जाती है. यह लगातार 30 घंटे तक उड़ने में सक्षम है. यह खुफिया जानकारी इकट्ठा कर सकता है. यह हवा से ही आतंकी ठिकानों को पहचान सकता है, निशाना लगा सकता है और ध्वस्त कर सकता है. यानी इससे हाफिज सईद के छुपे ठिकानो का पता लगा कर उड़ाना बहुत आसान हो जायेगा. इसे इसीलिए किलर ड्रोन भी कहते हैं.

सर्जिकल स्ट्राइक करने में होगी आसानी

इस ड्रोन की वजह से सीमा पार सर्जिकल स्‍ट्राइक करने में बहुत आसानी होगी और किसी की जान जाने का खतरा न के बराबर होगा. हेरोन टीपी ड्रोन एक टन वजन उठाकर 45 हजार फीट की ऊंचाई तक किसी भी मौसम में उड़ान भर सकने में सक्षम है. यह पूरी तरह ऑटोमेटिक है. इसे कंट्रोल रूम में बैठा एक ऑपरेटर भी नियंत्रित कर सकता है. किसी पायलट की जरूरत नहीं पड़ती. ये ड्रोन मिलने से भारत को पाकिस्तान और चीन से लगती सीमा पर निगरानी के लिए अचूक हथियार मिल जाएगा.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments