Home > ख़बरें > मोदी की मदद के लिए गुजरात आया हिंदुत्व का सबसे बड़ा फ़ायरब्रांड नेता, आतंकियों में मचा हाहाकार

मोदी की मदद के लिए गुजरात आया हिंदुत्व का सबसे बड़ा फ़ायरब्रांड नेता, आतंकियों में मचा हाहाकार

modi-yogi-gujrat-election

नई दिल्ली : गुजरात चुनाव में सियासी घमासान जोरों पर है. राहुल गाँधी इस बार पूरी ताकत के साथ पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ मैदान में डटें हुए हैं. मंदिरों के दर्शन कर रहे हैं, विकास को पागल बता रहे हैं और पटेलों व् दलितों की जातिवादी राजनीति में डूब चुके हैं. वहीँ बीजेपी ने अब गुजरात में पीएम मोदी की मदद के लिए अपने सबसे काबिल व् लोकप्रिय मुख्यमंत्री को गुजरात में उतारने का फैसला ले लिया है. यदि बीजेपी का ये फायरब्रांड नेता गुजरात में प्रचार करने गया तो राहुल के मंदिरों के दर्शन करना व्यर्थ साबित हो जाएगा.


आतंकियों के निशाने पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ

कांग्रेस तो छोड़िये, पाकिस्तान में बैठे आतंकियों तक को इस बात की चिंता सताने लगी है कि कहीं ‘हिंदुत्व के सबसे बड़े फ़ायरब्रांड नेता’ के रूप में मशहूर योगी आदित्यनाथ गुजरात ना चलें जाएँ, वरना गुजरात से भी कांग्रेस का पूरी तरह पत्ता साफ़ हो जाएगा. यही वजह है कि उनके गुजरात दौरे से पहले ही पाक में बैठे आतंकी आका हरकत में आ गए हैं.

खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी किया है कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का गुजरात दौरा आतंकियों के निशाने पर है. सीएम योगी आदित्यनाथ विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए 3 दिन के गुजरात दौरे पर हैं. ये खुफिया जानकारी आईबी ने यूपी और गुजरात पुलिस के साथ शेयर की है.

हिंदुत्व के फायरब्रांड नेता के रूप में मशहूर

अलर्ट के मुताबिक़ यूपी के सीएम और हिंदुत्व के फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ आंतकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के निशाने पर हैं. योगी मंच से खरी-खरी बातें कहकर विरोधियों की धुर्रियाँ उड़ाने के लिए मशहूर हैं और पाक में बैठे आतंकी संगठन नहीं चाहते कि गुजरात में मोदी की जीत हो.


मोदी की जीत को रोकने के लिए योगी को टारगेट किया जा रहा है. अभी कल ही यूपी से लश्कर के आतंकी नईम को गिरफ्तार किया गया था. सीमा पार बैठे लश्कर के आकाओं ने गुजरात चुनाव के दौरान सीएम योगी पर हमले का निर्देश दिया है.

बढ़ाई गयी योगी की सुरक्षा

ख़ुफ़िया एजेंसियों ने सीमा पार से हो रही बातचीत को पकड़ा है. आतंकियों की बातचीत से इस खतरे का खुलासा हुआ है. जिसके बाद सुरक्षा एजेंसियों ने योगी की गुजरात चुनाव के दौरान सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए हैं.

‘हिंदू पुनर्जागरण का महानायक’ और ‘सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का प्रतीक’ माने जाने वाले योगी आदित्यनाथ को पीएम मोदी के विकल्प के रूप में भी देखा जाता है. यदि पीएम मोदी के बाद बीजेपी के किसी नेता की सबसे ज्यादा चर्चा होती है, तो वो हैं योगी आदित्यनाथ. ऐसे में आतंकी भी योगी से घबराते हैं और इसी कारण उनपर हमले की साजिशें की जा रही हैं.


पीएम नरेंद्र मोदी से जुडी सभी खबरें व्हाट्सएप पर पाने के लिए 783 818 6121 पर Start लिख कर भेजें.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.


सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments