Home > ख़बरें > पीएम मोदी मैजिक- कश्मीर से आ गयी वो खुशखबरी, जिसका हर भारतीय को था बरसों से इंतज़ार

पीएम मोदी मैजिक- कश्मीर से आ गयी वो खुशखबरी, जिसका हर भारतीय को था बरसों से इंतज़ार

madarsa-modi

नई दिल्ली : ऐसा नहीं है कि देश के हर मदरसे ने देशद्रोह और कट्टरता की शिक्षा दी जा रही हो. लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ हाल ही में खुफिया एजेंसियों को जानकारी मिली है कि देश के अंदर मौजूद कुछ कट्टरपंथी ताकतें भारत को तोड़ने की कोशिशों में लगी हैं और इस काम के लिए वो मदरसों का भी सहारा ले रहे हैं.


कश्‍मीर से आतंकी और कट्टरपंथियों का नामोनिशान मिटाने के लिए मोदी सरकार अब एक्शन में आ गयी है. बच्चों और युवाओं के मन में देश के खिलाफ नफरत का जहर घोलने वाले अलगाववादियों और धार्मिक नेताओं के खिलाफ कार्यवाही करने का सरकार ने मन बना लिया है.

खुफिया एजेंसियों ने ऐसे कट्टरपंथी धार्मिक नेताओं और अलगाववादियों की पहचान भी कर ली है जिससे ऐसे लोगों पर पाबंदियां लगाई जा सकें. रिपोर्ट्स के मुताबिक़ सरकार ने तय किया है कि अब से मदरसों में राष्ट्रवाद की शिक्षा भी दी जायेगी ताकि बच्चे कट्टरपंथियों के बहकावे में आने से बच सकें. गौरतलब है कि सुरक्षाबलों द्वारा हिजबुल मुजाहिद्दीन कमांडर बुरहान वानी के एनकाउंटर करने के बाद से घाटी में हिंसा का दौर चल पड़ा था.


नोटबंदी के बाद इस हिंसा में कमी तो आयी है लेकिन अभी पूरी तरह से रुक नहीं पायी है. हाल ही में सेना प्रमुख बिपिन रावत भी निर्देश दे चुके हैं कि जो भी स्थानीय नागरिक आतंकी एनकाउंटर के वक़्त सेना के ऑपेरशन में बाधा पहुचाने के लिए पत्थर फेकेगा उसके साथ सेना वैसा ही सलूक करेगी जैसा आतंकियों के मददगार के साथ किया जाता है.

भारत के खिलाफ लोगों को बरगलाने और भड़काने वाले अलगाववादी नेता एक बार फिर सक्रिय हो गए हैं. जिसके बाद खुफिया एजेंसियों को खबर मिली थी कि कट्टरपंथी कुछ मदरसों में बच्‍चों को देश के खिलाफ भड़काने का काम कर रहे हैं. ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करके ही कश्मीर में शान्ति बहाल की जा सकती है.

कट्टरपंथियों पर सख्ती के अलावा सरकार चाहती है कि मदरसों में पढ़ने वाले बच्‍चों को राष्ट्रवाद की शिक्षा भी दी जाए. इसके तहत बच्चों को देश की एकता और अखंडता का संदेश दिया जाए. रिपोर्ट्स के मुताबिक खुफिया एजेंसियों ने कश्‍मीर और पीओके के कई कट्टरपंथी धार्मिक नेताओं की लिस्‍ट बनायी है जो मदरसों के जरिये से बच्चों में देश के खिलाफ नफरत का जहर घोलने का काम करते हैं. इन सभी पर नकेल कसने की योजना तैयार की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक़ निकट भविष्य में ऐसे एक क़ानून को बनाये जाने पर भी विचार किया जा रहा है जिससे देश के खिलाफ लोगों के मन में नफरत घोलने वालों को दंड दिया जा सके.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments