Home > ख़बरें > नीतीश की इस शर्मनाक हरकत पर शर्मसार हुआ सारा देश, मोदी के सिपाही ने बदला लेने की खाई कसम !

नीतीश की इस शर्मनाक हरकत पर शर्मसार हुआ सारा देश, मोदी के सिपाही ने बदला लेने की खाई कसम !

nitish-ramnavmi-julus

नई दिल्ली : केंद्र में मोदी सरकार के आने से पहले से ही अपने बयानों को लेकर मीडिया की सुर्ख़ियों में बने रहने वाले बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री गिरीराज सिंह एक बार फिर से सुर्ख़ियों में कहा गए हैं. दरअसल हाल ही में बिहार में हुई साम्प्रदायिक झड़प को लेकर उन्होंने जेडीयू अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर निशाना साधा है.

नवादा में हुई हिंसक झड़प के लिए फटकार !

गिरीराज सिंह ने नितीश पर निशाना साधते हुए कहा है कि मोदी राज में जहां एक और देशभर में हिंदुत्व के सुर बुलंद हो रहे हैं वहीं नितीश कुमार के राज में बिहार में प्रतिदिन मंदिरों पर हमले हो रहे हैं. गौरतलब है कि आज बिहार के नवादा जिले में कुछ लोगों ने रामनवमी का झंडा फाड़ दिया था, जिसके बाद दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प छिड़ गयी थी.

इस हिंसक झड़प के लिए नितीश कुमार को जिम्मेदार ठहराते हुए गिरिराज सिंह ने कहा कि नितीश कुमार के राज में हिंदुओं को प्रताड़ित किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि यदि मुर्हरम का जुलूस निकाला जाता है तो रामनवमी पर शोभायात्रा भला क्यों नहीं निकाली जा सकती? उन्होंने कहा कि रामनवमी की शोभायात्रा में शुरक्षा की व्यवस्था करना प्रशासन का काम है.

पाकिस्तान में भी रामनवमी की शोभायात्रा !

इसके साथ ही उन्होंने प्रशासन से सुरक्षा मुहैया कराए जाने की मांग भी की. कट्टर हिंदूवादी छवि वाले बीजेपी नेता गिरिराज सिंह इतने पर ही नहीं रुके और उन्होंने भारत के साथ-साथ पाकिस्तान में भी रामनवमी की शोभायात्रा निकालने की बात कह डाली.

उन्होंने हुंकार भरते हुए कहा कि उनके खून का एक-एक कतरा हिन्दुत्व की रक्षा के लिए है. इसके बाद बजरंग दल के कुछ कार्यकर्ताओं ने गिरिराज सिंह से 7 अप्रैल को शहर में निकलने वाली रामनवमी की शोभायात्रा में सम्मिलित होने का अनुरोध किया, जिसके लिए वो राजी हो गए.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज मंगलवार को नवादा जिले के सद्भावना चौक पर एक ख़ास समुदाय के कुछ लोगों द्वारा रामनवमी का झंडा फाड़ दिया गया. जिसको लेकर दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प हो गई थी. हांलाकि झड़प शुरू होते ही जिला प्रशासन ने इसे पूरी तरह से काबू में कर लिया. जिसके बाद प्रभावित क्षेत्र में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती भी की गई है.

त्योहारों के मौके पर सुरक्षा मुहैया ना कराये जाने पर देशभर में नितीश कुमार की थू-थू होनी शुरू हो गयी है. सोशल मीडिया में लोगों ने जमकर नितीश कुमार के खिलाफ अपने दिल की भड़ास निकाली. लोगों ने ट्वीट करके नितीश से कहा कि उन्हें योगी आदित्यनाथ से सीखना चाहिए कि कैसे त्योहारों के दौरान उन्होंने यूपी में एक भी जगह हिंसक झड़प नहीं होने दी.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments