Home > ख़बरें > पाकिस्तान का पक्ष लेते हुए फारूख अब्दुल्ला ने कहा – ‘पीओके क्या तुम्हारे बाप का है’

पाकिस्तान का पक्ष लेते हुए फारूख अब्दुल्ला ने कहा – ‘पीओके क्या तुम्हारे बाप का है’

farooq-modi

कश्मीर : जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को लेकर उगला जहर। पीओके पर भारत के दावे को लेकर उन्होंने बयान दिया कि ‘क्या ये तुम्हारे बाप का है, मौजूदा वक्त में ये पाकिस्तान के कब्जे में है’।

शुक्रवार को चिनाब घाटी में एक समारोह के दौरान उन्होंने बयान दिया जिसमे उन्होंने भारत की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि ‘पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर भारत को बाप-दादाओं की तरफ से मिली जायदाद नहीं है। इसलिए भारत उस पर अपना दावा नहीं कर सकता।’ इस समारोह में फारूख के बेटे और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला भी उपस्थित थे।

फारूख अब्दुल्ला ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का पक्ष लेते हुए कहा कि भारत सरकार के पास पीओके को पाकिस्तान से छीनने की हिम्मत नहीं है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के पास अब पाकिस्तान से बातचीत शुरू करने के अलावा कोई और रास्ता नहीं बचा है।

सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि फारूख अब्दुल्ला नें नोटबंदी के मुद्दे पर भी नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मोदी ने पुराने नोट बदलवाने के लिए अपनी मां को भी बैंक की लाइन में लगवा दिया। अच्छी औलाद अपनी मां को किसी भी कष्ट से बचाने के लिए कैसी भी कुर्बानी दे सकती है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के लिए मोदी को जनता से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने मोदी के निजी जीवन पर हमला करते हुए कहा कि जिसकी खुद की शादी न हुई हो, वो ये बात नहीं समझ सकता कि सिर्फ ढाई लाख में बेटियों की शादी करना नामुमकिन है।


आपको याद दिला दें कि हाल ही में खबर आयी थी कि पाकिस्तान भारत में मोदी विरोधी लोगों को इकठ्ठा करने में लगा हुआ है। पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित आतंकी हमलों के बाद से भारत सरकार का रुख पाकिस्तान के लिए काफी सख्त हो चुका है। ऐसे में पाकिस्तान घर के भेदियों की मदद से भारत सरकार पर दबाव बनाना चाहता है ताकि भारत पाकिस्तान पर सैन्य कार्यवाही करने की जगह कायरों की बातचीत ही करता रह जाए। नोटबंदी से पाक आतंक पर भी लगाम लगी है और इसके लिए भी पाकिस्तान भारत पर नोटबंदी के फैसले को वापस लेने के लिए दबाव बनाना चाहता है। और फारुख अब्दुल्ला नें इन्ही दोनों मुद्दों पर बयान दे कर ये स्पष्ट कर दिया है कि वो पाकिस्तान के हाथ की कठपुतली है और भारत के खिलाफ कोई भी काम करने से नहीं हिचकिचाएंगे।

अब आपकी बारी

क्या आपको लगता है कि भारत सरकार को फारुख अब्दुल्ला पर देशद्रोह का मुकदमा चला कर उन्हें जेल में डाल देना चाहिए? अपनी राय आप कमेंट द्वारा शेयर कर सकते हैं।


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments