Home > ख़बरें > ट्रंप ने सऊदी अरब से पाकिस्तान पर साधा निशाना, नवाज की हालत खराब, पाक मीडिया ने मनाया शोक

ट्रंप ने सऊदी अरब से पाकिस्तान पर साधा निशाना, नवाज की हालत खराब, पाक मीडिया ने मनाया शोक

trump-nawaj

नई दिल्ली : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प तो चुनाव प्रचार के दौरान रेडिकल इस्लामिक आतंकवाद जैसे शब्दों का प्रयोग करके पाकिस्तान जैसे कई देशों को चेतावनी देते आये हैं. उन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी दी थी कि वो अपनी धरती का प्रयोग आतंकवादियों को ना करने दे वरना अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे. एक बार फिर ट्रम्प ने पाकिस्तान को जमकर लताड़ लगाई है.


सऊदी अरब की विदेश यात्रा पर गए अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने रविवार को रियाद में 50 इस्लामिक देशों के नेताओं को संबोधित किया. अपने संबोधन में ट्रंप ने एक बार फिर आतंकवाद का मुद्दा उठा लिया और सऊदी की धरती से ही मुस्लिम देशों के नेताओं को आतंकवाद खत्म करने की नसीहत दे डाली.

ट्रंप ने माना कि भारत आतंकवाद से पीड़ित देश है. रियाद में इस्लामिक देशों के नेताओं को संबोधित करते हुए ट्रंप ने उनसे भी आतंकवाद के खिलाफ लड़ने की अपील की. ट्रम्प ने कहा कि आतंकवाद पूरी दुनिया में पनप रहा है. दुनिया का लगभग हर देश आज आतंकवाद से पीड़ित है. इसके साथ ही उन्होंने इशारों-इशारों में पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ देश आतंकवाद को बढ़ाने में मदद कर रहे हैं. जिससे मध्य-पूर्व से लेकर भारत और रूस जैसे देश भी प्रभावित हो रहे हैं. सबसे मजे की बात तो ये है कि उस दौरान पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी वहां बैठे ट्रंप को सुन रहे थे.


ट्रंप ने दो टूक कहा कि धर्म के नाम पर आतंकवाद का खेल अब बंद होना चाहिए. ट्रंप ने अपने सम्बोधन में स्पष्ट किया कि आतंकवाद को लेकर पश्चिम और इस्लाम के बीच लड़ाई नहीं है, बल्कि ये लड़ाई तो अच्छाई और बुराई के बीच में है. अपने सम्बोधन में ट्रंप ने कहा कि अमेरिका का मकसद दुनिया से आतंकवाद को ख़त्म करना है. उन्होंने कहा कि हम यहां केवल भाषण देने के लिए नहीं हैं, ना ही हम यहां ये बताने के लिए हैं कि दूसरे लोगों कैसे जियें, क्या करें या कैसे उपासना करें, बल्कि हम यहां बेहतर भविष्य पर विचार करने के लिए हैं.

सऊदी की धरती से इस्लामिक देशों के नेताओं को सम्बोधित करते हुए ट्रम्प ने जैसे ही आतंकवाद का मुद्दा छेड़ा, पाक मीडिया में खलबली मच गयी. पाक मीडिया के मुताबिक़ ट्रम्प ने इस्लामिक देशों को ही आतंकवाद के लिए सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराया है क्योंकि आतंकवाद के मुद्दे की बात उन्होंने किसी अन्य देश में अपने भाषण के दौरान क्यों नहीं की.

पाकिस्तान को ट्रम्प इससे पहले भी चेतावनी दे चुके हैं. कुछ वक़्त पहले ही अफगानी आतंकवादी को अमेरिकी ड्रोन ने पाकिस्तान में घुसकर उड़ा दिया था, ट्रम्प ने साफ़ किया था कि आतंकी जिस देश में जाएंगे वो वहीँ उन्हें मारेंगे. इस बात से पाकिस्तान की समस्या और भी ज्यादा बढ़ गयी है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments