Home > ख़बरें > ऑफिस संभालने से पहले ही निर्मला सीतारमन का सेना को शानदार तोहफा, आज तक नहीं हुआ था ऐसा

ऑफिस संभालने से पहले ही निर्मला सीतारमन का सेना को शानदार तोहफा, आज तक नहीं हुआ था ऐसा

indian-army-nirmala-sitaraman

नई दिल्ली : भारत की पहली पूर्णकालिक महिला रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन ने ऑफिस संभालने से पहले ही देश की सुरक्षा की खातिर बड़े-बड़े फैसले लेने शुरू कर दिए हैं. सेना की ताकत बढ़ाने के लिए सीतारमन ने एक बेहद अहम् फैसला लिया है. उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान इस बात का खुलासा किया. सेना में महिलाओं को लड़ाकू की भूमिका देने की तैयारी की जा रही है. इसके लिए महिलाओं को सबसे पहले मिलिट्री पुलिस में तैनात किया जाएगा.

सेना में महिलाओं को मिलेगी लड़ाकू भूमिका, दुश्मनों पर बरसाएंगी बारूद !

मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि वो सेना में महिलाओं की लड़ाकू भूमिका से संबंधित फाइल वो देखेंगी और इस बारे में खुले दिमाग से फैसला लेंगी. उन्होंने पूर्व रक्षामंत्री अरुण जेटली का जिक्र करते हुए कहा कि उन्हें लगता है कि जेटली जी ने अपने वृहत कार्यकाल के दौरान कई मुद्दों पर निर्णय लिए होंगे. अब वो खुद महिलाओं की लड़ाकू भूमिका से संबंधित फाइल देखेंगी.

महिलाओं को लड़ाकू भूमिका देने से पहले मिलिट्री पुलिस में तैनाती दी जाएगी. मिलिट्री पुलिस छावनी और सेना के प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के साथ युद्ध के समय के समय सैनिकों के आवागमन में मदद करती है. बता दें कि इससे पहले सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने भी इस बारे में जोर देकर कहा था कि महिलाओं को लड़ाकू की भूमिका में शामिल करने से भारत भी उन देशों में शामिल हो जाएगा, जहां महिलाएं पुरुषों के साथ मोर्चे पर लड़ती हैं.


इस दिशा में तेजी से काम शुरू हो गया है. सेना प्रमुख और रक्षा मंत्री दोनों ही अब महिलाओं को जवान के रूप में आते देखना चाहते हैं. सेना इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर चुकी है. यानि अब जल्द ही बॉर्डर पर पाक आतंकी और पाक सैनिक भारत की वीर महिलाओं के हाथों जहन्नुम भेजे जाएंगे.

सेना के तीनों अंगो में महिलाएं होंगी तैनात !

भारतीय वायुसेना में तो पहले ही महिला फाइटर पायलटों की नियुक्ति होनी शुरू हो गई है. पिछले साल तीन महिलाओं को फायटर पायलट के रूप में तैनात किया गया था. इनकी नियुक्ति पायलट प्रोजक्ट के रूप में की गई थी. केवल इतना ही नहीं बल्कि अब भारतीय नौसेना में भी जंगी जहाजों पर महिलाओं को तैनात किये जाने पर विचार किया जा रहा है.

यानि आसमान से महिलाएं दुश्मन पर बम बरसाएंगी, समुद्र से मिसाइलें दागेंगी और बॉर्डर पर तोपें भी चलाएंगी. बता दें कि दुनिया के कई देशों में महिलाएं लड़ाकू मोर्चो पर जाती हैं, लेकिन भारत में अब तक ये परम्परा नहीं थी. अभी तक भारतीय सेना में महिलाओं की तैनात चिकित्सा, शिक्षा, कानून, सिग्नल और इंजीनियरिंग जैसी इकाइयों में ही होती थी. महिलाओं को लड़ाई से दूर रखा जाता था लेकिन अब महिलाएं भी पुरुषों के साथ मोर्चे पर लड़ सकेंगी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments