Home > ख़बरें > मनाली पहुंची रक्षामंत्री ने ताबड़तोड़ लिए ऐसे एक्शन, जिन्हे देख सेना प्रमुख भी हैरान, विपक्ष की बोलती बंद

मनाली पहुंची रक्षामंत्री ने ताबड़तोड़ लिए ऐसे एक्शन, जिन्हे देख सेना प्रमुख भी हैरान, विपक्ष की बोलती बंद

Nirmala-Sitharaman-rohtang

मनाली (कुल्लू) : “एक महिला को रक्षामंत्री बनाकर पीएम मोदी ने गलती कर दी”, ऐसा कहने वाले विपक्षी नेताओं के मुँह पर आज करारा तमाचा लगा है. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने साबित कर दिया है कि भारतीय सेना के लिए जितनी गंभीर वो हैं, उतना शायद आजा तक कोई नहीं हुआ होगा. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण आज मनाली पहुंची, जहाँ उन्होंने खुद ना केवल सेना की व्यवस्थाओं का जायजा लिया, बल्कि सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत और डीआरडीओ चेयरमैन डॉ. एस क्रिस्टोफर के साथ गाडी में बैठ कर सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण रोहतांग टनल का मुआयना करने भी जा पहुंची.


मनाली में घूम-घूम कर लिया जायजा

रक्षामंत्री ने बीआरओ को निर्देश दिए हैं कि टनल का काम फ़टाफ़ट निपटाया जाए और वाहनों के लिए खोला जाए. उन्होंने कहा कि इससे आम लोगों के अलावा सेना को भी साल भर बॉर्डर तक पहुंचने में आसानी होगी. रक्षामंत्री के जोश को देख सैन्य अधिकारी भी दंग रह गए.

उन्होंने 8.8 किलोमीटर लंबी टनल को गाड़ी में बैठकर बारीकी से देखा. वो साउथ पोर्टल से नॉर्थ पोर्टल तक गईं और जगह-जगह गाड़ी रुकवा कर, उन्होंने नीचे उतरकर टनल की तकनीकी जानकारी भी ली. रक्षा मंत्री ने विपरीत परिस्थितियों में खुदाई का काम पूरा करने के लिए बीआरओ की पीठ थपथपाई.

कोई आराम नहीं, सिर्फ काम और काम

बता दें कि रक्षा मंत्री सैन्य अधिकारियों के साथ हेलीकाप्टर से करीब 10.15 बजे मनाली स्थित सासे हेलीपैड पहुंचीं. यहां से वाहन से धुंधी पहुंचीं. यहाँ उन्होंने साउथ से नॉर्थ पोर्टल तक टनल का मुआयना किया. हिमस्खलन से बचने के लिए बनाई गई स्नो गैलरी और पलचान से धुंधी के लिए बनने वाले पुल का भी उन्होंने निरीक्षण किया. जिसके बाद रक्षामंत्री सोलंगनाला स्थित बीआरओ कार्यालय भी गईं.


रक्षामंत्री ने ज़रा भी आराम नहीं किया, फ़टाफ़ट सभी काम निपटाए और फिर मनाली स्थित सासे संस्थान में दोपहर के खाने के बाद वो दोपहर पौने तीन बजे हेलीकाप्टर से वापस दिल्ली चली गईं. इस दौरान बीआरओ के लेफ्टिनेंट जनरल संजीव कुमार श्रीवास्तव, मोहन लाल, पीके महाजन, एनएम चंद्र राणा समेत अन्य लोग मौजूद रहे.

सासे हेलीपैड पर रक्षा मंत्री का हेलीकॉप्टर

Nirmala-Sitharaman

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने रोहतांग दौरे से पहले बाकायदा केंद्रीय चुनाव आयोग से अनुमति भी ली. चुनाव आचार संहिता के कारण उनके दौरे के दौरान किसी तरह के उत्सव का आयोजन नहीं किया गया. कानूनों का पालन करते हुए रक्षा मंत्री स्वागत करने पहुंचे स्थानीय लोगों से भी नहीं मिलीं, वरना विपक्षी चुनाव प्रचार का आरोप लगा देते.


पीएम नरेंद्र मोदी से जुडी सभी खबरें व्हाट्सएप पर पाने के लिए 886 048 9736 पर Start लिख कर भेजें.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments