Home > ख़बरें > मोदी सरकार की बड़ी सफलता, नोटबंदी के बाद सामने आया दाऊद का 2 लाख करोड़ का कालाधन

मोदी सरकार की बड़ी सफलता, नोटबंदी के बाद सामने आया दाऊद का 2 लाख करोड़ का कालाधन

dawood

नई दिल्ली : कालेधन को ख़त्म करने के लिए पहले नोटबंदी और बाद में सरकार नें आईडीएस योजना लांच की थी। इस योजना के तहत कालाधन धारक अपने कालेधन को सरकार को सौप सकते हैं। इसी योजना के तहत मुम्बई के सैयद परिवार नें 2 लाख करोड़ रुपये के कालधन की घोषणा की थी। और अब एक चौकाने वाली खबर आयी है, जिसके मुताबिक़ ये सारा पैसा दाऊद इब्राहिम का कालाधन है।

सूत्रों के मुताबिक़ पाकिस्तान में आत्महत्या करने वाले हवाला कारोबारी जावेद खनानी से इस परिवार का सम्बन्ध था। सूत्रों के मुताबिक़ जावेद खनानी अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के कालेधन को हवाला के जरिये भारत में लगाता था। खनानी भारत में अपने नेटवर्क को इस्तमाल करके दाऊद के 2 लाख करोड़ के कालेधन को आईडीएस स्कीम के जरिये से सफ़ेद करने की योजना बना रहा था। और इसी के लिए इस परिवार के जरिये से ऐसी घोषणा कराई गयी थी।

सूत्रों के मुताबिक़ मुम्बई का ये परिवार फिलहाल लापता हो गया है और जावेद खनानी नें पाकिस्तान में आत्महत्या कर ली है। कयास लगाए जा रहे हैं कि उसने आत्महत्या नहीं की बल्कि उसे मार दिया गया है। रविवार को भारत के वित्तमंत्रालय नें जानकारी देते हुए बताया था कि आईडीएस फॉर्म के जरिये 2 लाख रुपये का कालाधन होने की बात सामने आयी है, इस फॉर्म के साथ अब्दुल नाम के शख्स का पैन कार्ड भी जमा किया गया था।

अब आपकी बारी

क्या आपको लगता है कि नोटबंदी के द्वारा पीएम मोदी नें एक ही मास्टरस्ट्रोक से भारत और पाकिस्तान दोनों ही देशों के चोर व् बईमानों को धूल छटा दी है? यदि आपका जवाब हां है तो इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments