Home > ख़बरें > ब्रेकिंग – कश्मीर में हुआ जबरदस्त खुलासा, मीडिया की ऐसी साजिश देख पीएम मोदी के भी उड़े होश !

ब्रेकिंग – कश्मीर में हुआ जबरदस्त खुलासा, मीडिया की ऐसी साजिश देख पीएम मोदी के भी उड़े होश !

indian-army-stone-pelters

नई दिल्ली : देश का मीडिया फर्जी सेकुलरिज्म के नाम पर किस तरह से फर्जी ख़बरें आप तक पहुंचाता है, इसका एक ताजा मामला आज कश्मीर में सामने आया है. आपको याद होगा कि कुछ ही वक़्त पहले सेना के मेजर गोगोई द्वारा एक पत्थरबाज को जीप के आगे बाँधने का मामला सामने आया था. जिसके बाद वामपंथी मीडिया ने उस युवक को भोला-भाला कश्मीरी बताते हुए सेना पर ही सवाल खड़े करने शुरू कर दिए थे.


कई नेताओं ने तो सेना को ही गालियां देना शुरू करते हुए सेना प्रमुख को गुंडा तक कह डाला था. अब इस मामले पर ताजा जानकारी सामने आयी है कि सेना ने ‘मानव ढाल’ के तौर पर जिस फारूख अहमद डार का इस्तेमाल किया था, असल में वो पत्थरबाजों का नेता और सरगना था.

सेना इतनी मूर्ख नहीं कि उसे पत्थरबाज और मासूम इंसान के बीच अंतर ही ना पता हो. सेना को पता था कि वो शख्स नेता और सरगना था और सबक सिखाने के लिए उसे जीप के आगे बंधा गया था. श्रीनगर लोकसभा उपचुनाव के दौरान जम्मू कश्मीर के उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने इस बारे में जानकारी दी है.उन्होंने कहा कि वो पत्थरबाजों का नेता और सरगना था.


उन्होंने कहा, “हालांकि सरकार के नाते हम मानव ढाल का समर्थन नहीं करते, पर हम मेजर गोगोई के साफ और नेक इरादे का समर्थन करते हैं” ज़रा सोचिये कि कैसे देश के मीडिया का एक वर्ग आपकी आँखों में धुल झोंकने का काम करता है, झूठी ख़बरें चलाता है और देश विरोध के चक्कर में भारतीय सेना तक का विरोध करता है.

सोशल मीडिया के सहारे मीडिया के झूठ उजागर करने वालों को फेक न्यूज़ कहकर बदनाम किया जा रहा है. फेसबुक पर दबाव बनाकर मोदी समर्थकों की पोस्ट को हटवाया जा रहा है. ऐसे में यदि आप चाहते हैं कि हमारी ख़बरें ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुचें तो ऐसी पोस्ट को शेयर जरूर करें.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments