Home > ख़बरें > आप यूपी चुनाव में उलझे रहे… वहाँ ममता के बंगाल में हो गया बड़ा कांड, जांच एजेंसियों में मचा हड़कंप

आप यूपी चुनाव में उलझे रहे… वहाँ ममता के बंगाल में हो गया बड़ा कांड, जांच एजेंसियों में मचा हड़कंप

fake-currency-bomb-blasts-bengal

मालदा : पिछले कई दिनों से मीडिया में यूपी चुनाव की ख़बरें ही छायी हुई हैं. विधानसभा चुनाव के चलते सभी पार्टियों के दिग्गज नेता यूपी में जमा थे. रैलियों और रोड शो की ख़बरें मीडिया में छायी हुई थी. मगर अब चुनाव प्रचार ख़त्म होने के साथ ही ममता बनर्जी के बंगाल से बड़ी खबर सामने आयी है.


मालदा में बम विस्फोट !

ख़बरों के मुताबिक़ पश्चिम बंगाल में भयंकर बम विस्फोट हुआ है. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबि्क बंगाल के मालदा जिले के पहाड़पुर गांव में कल रात एक भीषण बम विस्फोट किया गया है. विस्फोट के कारम एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई है और दो अन्य घायल बताए जा रहे हैं.

100 से ज्यादा क्रूड बम बरामद !

इसके अलावा कल पश्‍चिम बंगाल के मालदा जिले में एक घर से 100 से भी ज्यादा क्रूड बम बरामद किए गए हैं. वहीँ अभी कुछ ही दिन पहले सीमा सुरक्षा बल यानी बीएसएफ के जवानों ने पश्चिम बंगाल के नदिया जिले से आठ लाख बांग्लादेशी टका के साथ दो संदिग्ध भारतीय नागरिकों को हिरासत में लिया था.

नकली नोटों की सबसे बड़ी खेप !

वहीँ पिछले हफ्ते गुरुवार को कोलकाता से 2000 रुपये के नकली नोटों की अब तक की सबसे बड़ी खेप पकड़ी गयी. कोलकाता पुलिस की एंटी राउडी शाखा ने वाटगंज थाना के फैंसी मार्केट से पांच तस्करों को गिरफ्तार किया, इनके पास से 56.74 लाख रुपये के नकली नोट बरामद किये गए. इतनी बड़ी संख्या में नकली नोटों की बरामदगी होने से राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) के साथ-साथ केंद्रीय खुफिया एजेंसी (आइबी) के भी कान खड़े हो गए हैं.


बंगाल में आतंकी कनेक्शन !

भारी संख्या में जाली नोटों और क्रूड बमों की बरामदगी होने के बाद बीएसएफ बेहद सतर्क हो गई है. बीएसएफ के मुताबिक़ इतनी भारी संख्या में जाली नोट और बमों की बरामदगी का आतंक की फंडिंग से भी कनेक्शन हो सकता है. इसी सिलिसिले में अब एनआइए ने गिरफ्तार किये गए तस्करों के आतंकी कनेक्शनों की जांच शुरू कर दी है. इसके अलावा कोलकाता पुलिस की ओर से भी कहा गया है कि इस मामले में पकड़े गए आरोपियों के आतंकी कनेक्शन का पता लगाया जाएगा.

एकदम असली से दिखने वाले जाली नोट

दरअसल, केंद्रीय जांच एजेंसी के सामने सबसे बड़ी चुनौती पकडे जा रहे जाली नोटों की क्वालिटी की है. हाल ही में एनआइए ने मालदा के वैष्णवनगर थाना क्षेत्र से नकली नोटों के सरगना उमर फारुक को गिरफ्तार किया था. उसके पास से जब्त किये गए 2000 के जाली नोट बेहद अच्छी क्वालिटी के थे. उमर फारुक से प्राप्त हुई जानकारी के आधार पर बीएसएफ ने मालदा के चुरिअंतपुर सीमा क्षेत्र से 2 लाख रुपये के 2000 के नकली नोटों की खेप को भी जब्त किया था. भारत में नकली नोटों की राजधानी के नाम से कुख्यात मालदा से एनआइए व बीएसएफ ने जितने भी जाली नोट बरामद किये उनकी जांच में जो बात सामने आयी उससे उनके होश उड़ गए. जांच में पता चला कि इन जाली नोटों में असली 2000 के नोट के 17 में से करीब 10 सिक्यूरिटी फीचर की कॉपी की गई थी.

पिछले हफ्ते कोलकाता से जब्त किये गए 57 लाख के जाली नोटों की गड्डियों पर बकायदा एसबीआइ का जाली स्टिकर भी लगा हुआ था ताकि किसी को शक ना हो. कोलकाता पुलिस को आशंका है कि इन जाली नोटों को बंगाल में ही छापा गया है. इसलिए एनआइए अब पकडे गए तस्करों की मदद से जाली नोटों के स्त्रोत और नेटवर्क का पता लगाने में जुट गयी है ताकि पता चल सके कि आखिर इन तस्करों के पास ये नोट आया कहा से.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments