Home > ख़बरें > उन्हें लगा कि सीआरपीएफ चुप बैठ गयी और देश रो कर शांत हो गया, मगर जवानों ने कर दिया खेल ख़त्म !

उन्हें लगा कि सीआरपीएफ चुप बैठ गयी और देश रो कर शांत हो गया, मगर जवानों ने कर दिया खेल ख़त्म !

naxals-killed

नई दिल्ली : छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले में 25 जवान शहीद हो गए थे. जिसके बाद से मोदी सरकार ने लगातार नक्सलियों के खिलाफ सख्त रुख अपनाया हुआ है. सीआरपीएफ की टीमें पूरी ताकत से नक्सलियों के पीछे पड़ गयी हैं. अभी-अभी आयी खबर के मुताबिक़ सुरक्षाबलों को नक्सलियों के खिलाफ बड़ी कामयाबी हाथ लगी है.


दबोचे गए 19 नक्सली !

शनिवार को छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों ने सुकमा हमले में शामिल 9 माओवादियों समेत 19 नक्सलियों को धर दबोचा. इन सभी नक्सलियों को अलग-अलग क्षेत्रों से गिरफ्तार किया गया है. नक्सलियों के खिलाफ सीआरपीएफ की कई टीमें व् राज्य का पुलिस बल भी ऑपरेशन चला रहा है. सुकमा के एएसपी जितेंद्र शुक्ला ने बताया कि सुकमा के बुरकापाल में हुए नक्सली हमले में शामिल 9 माओवादी में से 6 को चिंतागुफा इलाके से और 3 को चिन्तलनार इलाके से धर दबोचा गया है.

इन्हे पकड़ने के लिए सीआरपीएफ, कोबरा और डिस्ट्रिक्ट पुलिस ने मिलकर ऑपरेशन चला हुआ है. चिन्तलनार, चिंतागुफा, बुरकापाल में चल रहे इस बेहद बड़े सर्च ऑपरेशन में इन्हे पकड़ा गया है. इनसे कड़ी पूछताछ की जा रही और इनके अन्य साथियों के बारे में जानकारी जुताई जा रही है. पुलिस के मुताबिक पूछताछ के दौरान 19 नक्सलियों में से 9 ने सुकमा हमले में शामिल होने की बात कबूल की है.


केवल इतना ही नहीं बल्कि एक अन्य ऑपरेशन में सुरक्षाबलों ने 10 अन्य नक्सलियों को भी कुकानर इलाके से धार दबोचा है. इन नक्सलियों को सीआरफीए, डीआरजी और जिला पुलिस के संयुक्त ऑपरेशन के जरिए पकड़ा गया है. जानकारी के मुताबिक़ पकडे गए इन 10 माओवादियों ने इसी साल 10 फरवरी को राष्ट्रीय राजमार्ग 30 पर जगदलपुर और सुकमा के बीच पुलिस गश्ती दल पर हमला किया था और दो ट्रकों में भी आग लगा दी थी.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पकडे गए सभी माओवादियों को दंतेवाड़ा जिला अदालत में पेश किया गया है. जहां से इन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. अभी कुछ ही दिन पहले भी 10 नक्सलियों के मारे जाने की भी खबर आयी थी. सुकमा हमले के बाद से सीआरपीएफ जवानों को खुली छूट दे दी गयी है. सड़क निर्माण काम को भी बंद करके सभी जवानों को नक्सलियों को ठिकाने लगाने के ऑपरेशन में लगा दिया गया है.

वहीँ कश्मीर में भी कल सुरक्षाबलों ने लश्कर के एक कुख्यात आतंकी को मार गिराया है. कश्मीर में 4000 जवान आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन में लगे हुए हैं. तेजी से हो रही कार्रवाई को देख ये साफ़ है कि मोदी सरकार अब आतंकियों और नक्सलियों को बर्दाश्त करने के मूड में तो बिलकुल भी नहीं है और जल्द ही इन सबका देश से सफाया हो जाएगा.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments