Home > ख़बरें > अभी-अभी : भारतीय सेना का धमाका, टी-90 भीष्म टैंक के प्रहार से चीनी सेना में मचा हाहाकार !

अभी-अभी : भारतीय सेना का धमाका, टी-90 भीष्म टैंक के प्रहार से चीनी सेना में मचा हाहाकार !

indian-army-t-90-tank

नई दिल्ली : डोकलाम के लेकर भारत को लगातार धमकियां देने वाले चीन की हालत भारतीय सेना के सामने पतली हो गयी है. केवल इतना ही नहीं, चीन की अंतर्राष्ट्रीय मंच पर बुरी तरह खिल्ली उड़ रही है. वहीँ भारतीय सेना मुकाबले में जीतती हुई दिखाई दे रही है. चीन की हार का नज़ारा देख भड़काऊ बयानबाजी करने वाले चीनी मीडिया के मुँह में दही जम गया है.


टी-90 भीष्म टैंक की ताकत देख थर्राया चीन !

दरअसल रूस में एक जबरदस्त सैन्य मुकाबला चल रहा है. ये मुकाबला है बड़े देशों की सेनाओं के टैंकों का. 19 देशों की सेनाएं अपने-अपने टैंक के साथ मैदान में अपना दम-ख़म दिखाने उतरी हैं. इस मुकाबले में भारत और चीन ने भी हिस्सा लिया है.

जहाँ एक ओर पहले ही राउंड में भारतीय सेना ने चीन को पछाड़ते हुए प्रतियोगिता के दूसरे राउंड में कदम रख दिया है, वहीँ चीन के नकली माल की तरह उसके टैंक भी नकली ही नज़र आ रहे हैं. मुकाबले के दौरान चीनी टैंक बुरी तरह से लड़खड़ा गया. चीनी टैंक के कई हिस्से अलग-अलग होकर गिर पड़े. उसका पहिया भी टैंक से अलग हो गया. चीनी टैंक की हालत देखकर ऐसा लग रहा था, मानो वो बच्चों के खेलने का टैंक लेकर मुकाबले में आ गए हों.

पहले राउंड में रूस ने बाजी मारी, वहीं भारत चौथे नंबर पर रहा. भारत ने दूसरे राउंड में प्रवेश कर लिया है. दूसरे राउंड में अगले तीन दिनों तक मुकाबला चलेगा, जिसमें टैंक के अलावा हथियार चलाने का भी मुकाबला होगा. भारतीय सेना का मुकाबला 10 अगस्त को है.

चीनी टैंक हुआ पूरी तरह ध्वस्त !

दूसरे राउंड में 48 किलोमीटर की रिले रेस भी होगी, जिसमें एक देश का एक ही टैंक होगा और उसके द्वारा ही अपनी ताकत दिखाई जायेगी. दूसरे राउंड में जीतने वाली टॉप 4 टीमें तीसरे व् अंतिम राउंड में जाएंगी. फाइनल रेस 12 अगस्त को होगी. इस साल इस मुकाबले में कुल 19 देशों ने हिस्सा लिया था, जिसमें भारत, रूस, चीन, कजाकिस्तान जैसे देश शामिल हैं.


अंतरराष्ट्रीय सैन्य मुकाबले में 28 कार्यक्रम होते हैं, जिनका आयोजन रूस, बेलारूस, अजरबैजान, कजाखिस्तान और चीन में होता है. भारतीय सेना पिछले तीन सालों से इस मुकाबले में हिस्सा ले रही है. इस साल भारतीय सेना की टीम ने अपने टी 90 टैंकों के साथ हिस्सा लिया है. मुकाबले में भारतीय टी 90 टैंक डेट रहे और जीत हासिल की, लेकिन चीनी टैंक पहले राउंड में ही पस्त हो गया. उसके अंजर-पंजर ढीले हो गए, पहिये निकल गए और चीन मुकाबले से बाहर हो गया.

मुकाबले में अपने टैंक की हालत देखकर चीन की पोल खुल गयी है. जब अंतर्राष्ट्रीय मुकाबले में उसके टैंक की ऐसी बुरी हालत हो गयी तो युद्ध के मैदान में चीनी टैंकों का क्या हाल होगा? भारत के अर्जुन और टी 90 टैंकों का मुकाबला चाइना का माल कहाँ तक कर पायेगा?

जरूर देखें चीन की सनसनीखेज सच्चाई बयान करता वीडियो


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments