Home > ख़बरें > चेतावनी पर नहीं माना पाक तो सेना ने शुरू की सर्जिकल स्ट्राइक से भी बड़ी सर्जरी, पाक में हाहाकार !

चेतावनी पर नहीं माना पाक तो सेना ने शुरू की सर्जिकल स्ट्राइक से भी बड़ी सर्जरी, पाक में हाहाकार !

indian-army-operation-arjun

श्रीनगर : पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान कुछ वक़्त के लिए शांत तो हुआ लेकिन पिछले महीने से उसकी नापाक हरकतें फिर शुरू हो गयी और उसने जानबूझकर जम्मू कश्मीर के आम नागरिकों को निशाना बनाना शुरू कर दिया. पाक के दिमाग ठिकाने लगाने के लिए सीमा सुरक्षा बल (BSF) की ओर से ‘ऑपरेशन अर्जुन’ चलाया गया है. भारतीय सेना के इस बेहद खतरनाक ऑपरेशन से पाकिस्तान इतना घबरा गया है कि पाक फ़ौज को भारतीय सेना के सामने घुटने टेकने पड़े हैं.


पाक चौकियों की उड़ाई धज्जियां !

सेना के अफसर के हवाले से टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर में कहा गया है कि पिछले महीने से पाकिस्तान स्नाइपर्स की मदद से भारतीय नागरिकों और सैनिकों को निशाना बना रहा था. सेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब देने के लिए ऑपरेशन अर्जुन शुरू किया है. इसके तहत बीएसएफ ने कम दूरी तक वार करने वाले हथियारों से पाकिस्तान के इलाकों में इतना बारूद बरसाया है कि पाक चौकियों की धज्जियां उड़ गयी हैं.

इस ऑपरेशन के तहत बीएसएफ अब तक कई पाकिस्तानी रेंजर्स की लाशें बिछा चुकी है. इसके अलावा इस ऑपरेशन के तहत बीएसएफ ने लंबी दूरी के 81 एमएम हथियारों का इस्तेमाल करके पाक सेना और रेंजर्स के कई आउट पोस्ट भी तबाह कर दिए हैं. पाक फ़ौज में हाहाकार मचा दिया है.


पाक फ़ौज ने टेके घुटने !

सेना के एक अधिकारी ने बताया कि ऑपरेशन अर्जुन से परेशान होकर पाक फ़ौज ने हाथ खड़े कर दिए हैं और इस्लामाबाद ने 3 दिन पहले भारतीय सेना से संपर्क कर सीजफायर करने को कहा था. अधिकारी ने बताया कि बार्डर इलाके में पाकिस्तान के पूर्व सैनिक, आईएसआ, ईपाक रेंजर्स के कई अधिकारी रहते हैं. यहां उनका घर और खेती-बाड़ी भी है. ये सभी लोग आतंकियों को भारत में घुसपैठ करने में मदद करते हैं. वे लगातार भारत विरोधी अभियान चला रहे हैं.

इन्ही लोगों से निपटने के लिए बीएसएफ ने ऑपरेशन अर्जुन चलाया है. सेना की ओर से कहा गया है कि जब पाकिस्तान हमारी सरहदों में ताक-झांक करेगा तो हम भी चुप नहीं बैठेंगे. ऑपरेशन अर्जुन के बाद पाक फ़ौज में ऐसा आतंक पसर गया है कि पाक रेंजर्स के पंजाब डीजी मेजर जनरल अजगर नवीद हायत खान बीएसएफ डायरेक्टर के.के.शर्मा से अब तक दो बार फायरिंग रोकने की अपील कर चुके हैं.

शर्मा को पाकिस्तान की तरफ से पहला कॉल 22 सितंबर को आया और दूसरा 25 सितंबर को किया गया. हालांकि पाकिस्तान से कह दिया गया है कि वो आतंकी घुसपैठ और सीजफायर का उल्लंघन का रोक दे वरना अंजाम ऐसे ही भुगतेगा.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments