Home > ख़बरें > भारतीय सेना ने दिखाया अपना विकराल रूप, दाग दी ब्राह्मोस क्रूज मिसाइल, चीन में मची खलबली

भारतीय सेना ने दिखाया अपना विकराल रूप, दाग दी ब्राह्मोस क्रूज मिसाइल, चीन में मची खलबली

india-launches-brahmos-supersonic-cruise-missile

नई दिल्ली : पिछले काफी वक़्त से देश में चुनावी माहौल बना हुआ है. हर ओर केवल चुनावों की चर्चा का दौर चल रहा है. आज बीजेपी की बम्पर जीत के बाद चुनावी चर्चा मीडिया में भी छायी हुई है. पीएम मोदी भले पिछले कुछ दिनों में यूपी चुनाव प्रचार में व्यस्त दिखाई दे रहे हों लेकिन साथ ही साथ वो देश के अन्य महत्वपूर्ण कामों पर भी बराबर से नज़र बनाये हुए थे. पीएम मोदी के एक मिशन का आज सफलतापूर्वक परिक्षण कर लिया गया जिसे देख दुश्मन देशों के दिल दहल गए हैं.

ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल

दरअसल प्रधानमंत्री बनने के बाद से ये पीएम मोदी का मिशन रहा है कि देश की सैन्य शक्ति को इतना बढ़ा दिया जाए कि दुश्मन भारत की ओर आँख उठा कर देखने तक की हिम्मत ना कर सकें. इसी मिशन के तहत आज रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन यानी डीआरडीओ ने एक बड़ी कामयाबी हासिल कर ली है. डीआरडीओ ने आज भारत की सबसे खतरनाक मिसाइल माने जाने वाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को सफलतापूर्वक दाग दिया.

कर सकती है परमाणु हमला

ये सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल 300 किलोग्राम तक के हथियार ले जाने में सक्षम है. इसके अलावा ये मिसाइल परमाणु हमला करने में भी सक्षम है. सुबह 11 बजकर 33 मिनट पर उड़ीसा के चांदीपुर की परीक्षण रेंज से इस ब्रह्मोस मिसाइल का परीक्षण किया गया. सबसे अहम् बात ये रही कि ये परिक्षण एक मोबाइल लॉन्चर से किया गया है. डीआरडीओ के एक वरिष्ठ वैज्ञानिक के मुताबिक़ ब्रह्मोस का ये सफल परिक्षण भारत के लिए एक बहुत बड़ी सफलता के रूप में देखा जा रहा है.


ब्रह्मोस मिसाइल को सेना और नौसेना में तो पहले ही शामिल किया जा चुका है, भारतीय वायसेना में शामिल किये जाने से पहले इसके परीक्षण किये जा रहे हैं. जल्द ही इसे वायसेना में भी शामिल कर लिया जाएगा. फिलहाल ब्रह्मोस को लड़ाकू विमान से दागने और समुद्र के अंदर पनडुब्बी से दागने के परिक्षण किये जा रहे हैं.

रूस भी मुरीद है ब्रह्मोस का

इस बेहद खतरनाक ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का निर्माण भारत और रूस मिलकर करते हैं. इसकी मारक क्षमता से रूस इतना प्रभावित हुआ है कि भारत से इसे खरीदने के आर्डर भी दे चुका है. और अब इसके सफल परीक्षण के बाद तो भारत की सैन्य ताकत कई गुना बढ़ गयी है. भारत के दुश्मन को दहलाती हुई ब्रह्मोस अब देश की रक्षा में तैनात है. चुनाव में बीजेपी के जीतने की ख़ुशी मनाने के साथ-साथ देश की इस ऐतिहासिक उपलब्धि पर भी देशवासी गर्व कर रहे हैं और डीआरडीओ के वैज्ञानिकों का धन्यवाद भी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments