Home > ख़बरें > भारतीय नौसेना ने दिखाया अपना विकराल रूप, दाग दी ब्राह्मोस क्रूज मिसाइल, पाकिस्तान में मची खलबली

भारतीय नौसेना ने दिखाया अपना विकराल रूप, दाग दी ब्राह्मोस क्रूज मिसाइल, पाकिस्तान में मची खलबली

modi-nawaz-sharif-missile-launch

नई दिल्ली : पिछले कुछ वक़्त से कश्मीर में पत्थरबाजों की गतिविधियां बढ़ गयी हैं. वहीँ पाकिस्तान भी अपनी नापाक हरकतों पर लगाम नहीं लगा रहा और रह-रहकर सीजफायर का उलंघन कर रहा है, हालांकि भारतीय सेना की ओर से उसे मुँह-तोड़ जवाब दिया जा रहा है. वहीँ सीमाओं की रक्षा करने के लिए पीएम मोदी के एक मिशन का आज सफलतापूर्वक परिक्षण कर लिया गया जिसे देख पाकिस्तानी मीडिया में हड़कंप मच गया है.


पोत से जमीन पर मार करने वाली ब्रह्मोस मिसाइल का सफल परीक्षण !

दरअसल प्रधानमंत्री बनने के बाद से पीएम मोदी की कोशिश रही है कि देश की सैन्य शक्ति को इतना बढ़ा दिया जाए कि दुश्मन भारत पर हमला करना तो दूर बल्कि आँख उठा कर देखने तक की हिम्मत तक ना कर सकें. इसी मिशन के तहत आज भारतीय नौसेना ने एक बड़ी कामयाबी हासिल कर ली है. भारतीय नौसेना के एक पोत से आज जमीन पर मार करने वाली भारत की सबसे खतरनाक मिसाइल माने जाने वाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को सफलतापूर्वक दाग दिया.

ख़बरों के मुताबिक़ भारतीय नौसेना ने अभी तक ब्रह्मोस के पोत रोधी संस्करण का ही परीक्षण किया था, जिसमे पोत से समुद्री जहाज़ों पर सफलतापूर्वक मिसाइल दागी जा सकती थी लेकिन अब नौसेना ने समुद्री पोत से जमीनी ठिकानों पर भी ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण कर लिया है.

सबसे ताकतवर देशों की श्रेणी में भारत !

दुनिया के सबसे ताकतवर कुछ ही देशों के पास ही है ये क्षमता और इस सफल परीक्षण से भारत भी इस क्षमता वाले उन देशों की श्रेणी में शामिल हो गया है. भारतीय सेना के पास तो 2007 से ही ब्रह्मोस का जमीन पर मार करने वाला संस्करण संचालित है. इस मिसाइल की मारक क्षमता 290 किलोमीटर और गति 2.8 मैच है. इसका इस्तेमाल परमाणु हमले करने के लिए भी किया जा सकता है. इससे अब भारतीय सेना व् नौसेना जमीन, समुद्र और उपसमुद्र से समुद्री व् जमीनी ठिकानों पर भयंकर हमले कर सकती है.


ब्रह्मोस मिसाइल को सेना और नौसेना में तो शामिल किया जा चुका है, भारतीय वायुसेना में भी इसे शामिल किये जाने के लिए इसके परीक्षण किये जा रहे हैं. जल्द ही ये मिसाइल वायुसेना में भी शामिल हो जायेगी जिसके बाद लड़ाकू विमानों से भी इसे प्रक्षेपित किया जा सकेगा. ब्रह्मोस मिसाइल को लड़ाकू विमान से दागने और समुद्र के अंदर पनडुब्बी से दागने के परिक्षण भी किये जा रहे हैं.

रूस भी है ब्रह्मोस का मुरीद !

इस बेहद खतरनाक ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को भारत व् रूस ने संयुक्त रूप से विकसित किया है और इसे विश्व की एकमात्र सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल माना जा रहा है. रूस तो इसकी मारक क्षमता से इतना प्रभावित है कि भारत से इसे खरीदने के आर्डर भी दे चुका है. पोत से जमीनी निशाने पर हमला करके उसे तबाह करने के इस सफल परीक्षण के बाद तो भारत की सैन्य ताकत कई गुना बढ़ गयी है.

भारत के दुश्मनों को ये कडा सन्देश है कि अब भी वक़्त है वो सुधर जाएँ और भारत पर बुरी नज़र रखना बंद कर दें वरना यदि युद्ध हुआ तो भारतीय सेना कैसा कहर बरपाएगी इसकी कल्पना तक वो नहीं कर सकेंगे. यूपी, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में बीजेपी सरकार बनने की ख़ुशी के साथ-साथ देश की इस ऐतिहासिक उपलब्धि पर भी देश की जनता गर्व कर रही हैं और मोदी सरकार व् भारतीय नौसेना को धन्यवाद भी कर रही है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments