Home > ख़बरें > देखिये बीजेपी के फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ की खरी-खरी बाते, जिनसे छूट गए विरोधियों के छक्के

देखिये बीजेपी के फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ की खरी-खरी बाते, जिनसे छूट गए विरोधियों के छक्के

yogi-adityanath-akhilesh-rahul

लखनऊ : यूपी के सीएम चुने गए आदित्यनाथ बीजेपी के फायरब्रांड नेता यूँ ही नहीं कहलाते है. समय-समय पर अपने बयानों के चलते वो सुर्ख़ियों में बने रहे थे. वो ऐसे कई बयान दे चुके हैं जिन्हें आमतौर पर देने की हिम्मत कोई राजनेता नहीं कर पाता. वहीँ अपने इन्ही बयानों के चलते वो विरोधियों के निशाने पर भी आते रहे हैं.

दादरी कांड !

आज हम आपको योगी के ऐसे ही कुछ बयानों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने देशभर में सुर्खियां बटोरी. यूपी में हुए दादरी कांड पर योगी ने बयान दिया था कि अखलाख पाकिस्तान गया था और वहाँ जाने के बाद से ही अखलाक की गतिविधियां ज्यादा बढ़ गई थी. उनके इस बयान को मीडिया में खूब उछाला गया था.

वहीँ लव जेहाद के मुद्दे पर भी योगी ने मोर्चा खोल दिया था. योगी ने लव जेहाद को गंभीर मुद्दा बताते हुए कहा था कि यदि वो एक हिन्दू लड़की धर्म परिवर्तन करवाते हैं तो हम 100 मुस्लिम लड़कियों का धर्म परिवर्तन करवाएंगे. उनके इस बयान से देश की राजनीति में खलबली मच गयी थी और मीडिया में ये मुद्दा छा गया था.

मस्जिदों पर विवादित टिपण्णी !

वहीँ 2015 में विश्व हिंदू परिषद के एक कार्यक्रम में तो योगी ने यहाँ तक कह दिया था कि यदि उन्हें परमीशन मिले तो देश के सभी मस्जिदों के अंदर गौरी-गणेश की मूर्तियों स्थापित करवा देंगे. उन्होंने कहा था कि मक्का में गैर मुस्लिम और वेटिकन सिटी में गैर ईसाई नहीं जा सकते और हमारे यहां सभी को आने की अनुमति है.

योग और सूर्यनमस्कार !

योगी ने योग पर बयान देते हुए कहा था कि विदेशों में भारतीय संतों को ख़राब नज़रों से देखा जाता है. उन्होंने कहा था कि योग का विरोध करने वालों को भारत छोड़ के चले जाना चाहिए. सूर्य नमस्‍कार का विरोध करने वालों के लिए उन्होंने कहा था कि जो लोग सूर्य नमस्‍कार को नहीं मानते उन्‍हें समुद्र में डूब जाना चाहिए.

जनसंख्या असंतुलन !

अप्रैल 2015 में योगी ने हरिद्वार के हर की पौड़ी में गैर हिन्दुओं के जाने पर सवाल उठाते हुए कहा था कि जो हिन्दू नहीं हैं उन्हें वहां नहीं जाना चाहिए. 2015 के ही सितंबर महीने में उन्होंने कहा था कि मुस्लिमों के ज्यादा बच्चे पैदा करने के कारण देश में जनसंख्या असंतुलन हो सकता है.

राम मंदिर !

राम मंदिर को लेकर उन्होंने हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में उन्होंने कहा था कि सरकार बनाते ही अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाया जाएगा और किसी में दम नहीं जो अयोध्या में राम मंदिर बनने से रोक सके. योगी के बयानों को लेकर अनुपम खेर ने बयान दिया था कि योगी और साध्वी प्राची को जेल भेज देना चाहिए, जिसपर योगी ने अनुपम खेर को असल जिंदगी का खलनायक बताया था.

जेएनयू कांड !

वहीँ योगी ने बॉलीवुड के “किंग खान” कहलाने वाले शाहरुख खान की तुलना तो आतंकी हाफ़िज़ सईद से कर दी थी. उन्होंने कहा था कि शाहरुख की भाषा हाफिज सईद की भाषा के जैसी है, जिसके बाद उन्होंने कहा था कि शाहरुख खान को पाकिस्तान चले जाना चाहिए.

जेएनयू में देशविरोधी नारे लगाए जाने को लेकर उन्होंने बयान दिया था कि देश के किसी भी शिक्षण संस्थान में एक और जिन्ना को पैदा नहीं होने देंगे और जिन्ना को पैदा होने से पहले ही दफन कर दिया जाएगा. यानी कुल मिलाकर देखा जाए तो योगी अक्सर ही अपने बयानों के चलते सुर्खियां बटोरते दिखाई देते आये हैं. लोग उनसे उम्मीद कर रहे हैं कि यूपी के मुख्यमंत्री बनने के बाद वो हिंदुत्व के साथ-साथ विकास के काम भी करेंगे.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments