Home > ख़बरें > मुश्किल घड़ी में बिल गेट्स ने दिया पीएम मोदी का साथ, विरोधियों के पैरों तले खिसकी ज़मीन !

मुश्किल घड़ी में बिल गेट्स ने दिया पीएम मोदी का साथ, विरोधियों के पैरों तले खिसकी ज़मीन !

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने २ अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की थी. इस अभियान के उद्देश्य के तहत समस्त भारत देश को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए पीएम मोदी ने बड़ा अभियान शुरू किया. जिसमे पुरे भारत देश के लोगो और बड़ी बड़ी सेलेब्रिटियों ने भी नरेंद्र मोदी का सहयोग किया. अब पीएम मोदी के स्वच्छ भारत अभियान से ऐसा शख्स जुड़ा जिसने पुरे देश के लोगो की आँखें खोल दी हैं और विरोधियों की भी बोलती बंद करके रख दी है.


स्वच्छता पर बात करने वाले पहले नेता

माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स खुले में शौच पर पूरी तरह रोक लगाने की नरेंद्र मोदी की मुहीम से बहुत प्रभावित हुए हैं , साथ ही उन्होंने अपने ब्लॉग में नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ करी है. बिल गेट्स ने आगे अपने ब्लॉग में लिखा की आज तक ऐसा कोई राजनेता नहीं आया जो स्वंत्रता दिवस के मौके पर ऐसे बात करने की दम रखता हो इसके लिए बहुत बहादुरी की आवश्यकता होती है.

बात ही नहीं की काम भी करके दिखाया

बिल गेट्स ने आगे कहा की नरेंद्र मोदी ने ऐसा मुद्दा उठाया है जिसके बारे में लोग बात नहीं करना चाहते थे. मोदी ने ऐसा संवेदनशील मुद्दा उठाया है जो की एक बहादुरी भरा कदम है और उसके लिए पीएम की प्रशंसा करनी चाहिए. मोदी ने सिर्फ बातें नहीं करी है बल्कि काम भी करके दिखाया है जिसकी वजह से देशभर में 7.5 करोड़ शौचालय बनाकर देश को 2019 तक खुले में शौच मुक्त बनाने का लक्ष्य रक्खा है.


बिल गेट्स ने नरेंद्र मोदी के भाषण के कुछ हिस्से भी अपने ब्लॉग में लिखे – “हम आज भी ऐसे 21वी सदी में जी रहे हैं जहा लोगो के पास शौचालय जैसी साधारण सी सुवधा भी उपलब्ध नहीं है . आज भी हमारे देश कि माताएं और बहनें को खुले में शौच के लिए जाना पड़ता है. गाँव कि महिलाएं बच्चियां अँधेरे होने का इंतज़ार करती है कि कब अँधेरा हो और कब वे शौच के लिए जा सकें ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बात है. इससे उनकी सेहत पर बुरा असर पड़ेगा साथ ही अनेक बिमारियों का खतरा भी पैदा हो जाता है क्या हम उनके लिए एक शौचालय भी बनवा कर नहीं दे सकते क्या”

आगे उन्होंने कहा कि हम भारत सरकार के साथ मिलकर काम करेंगे मोदी के लक्ष्य को पूरा करने में पूरा सहयोग करेंगे. जब 2014 में इस अभियान कि शुरआत हुई तब सिर्फ देश में 42 फीसदी लोगो को उचित स्वछता कि सुविधा उपलब्ध थी और आज 63 फीसदी लोग इसका फायदा उठा पा रहे हैं यह एक नरेंद्र मोदी का सराहनीय कदम है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments