Home > ख़बरें > बांग्लादेश में लाखों रोहिंग्या के घुसते ही हुआ बड़ा खौफनाक खुलासा, सरकार ने किये अपने हाथ खड़े

बांग्लादेश में लाखों रोहिंग्या के घुसते ही हुआ बड़ा खौफनाक खुलासा, सरकार ने किये अपने हाथ खड़े

ढाका : सबसे शांत कहे जाने वाले बौद्ध देश म्यांमार में ज़बरदस्त हिंसा भड़कने के बाद म्यांमार सेना जाग उठी है. उन्होंने बड़े स्तर से रोहिंग्या मुसलामानों को अपने देश से खदेड़ना शुरू कर दिया. नौबत तो यहाँ तक आ गयी कि बौद्ध समुदायों को सड़क पर उतरकर अपने ही देश में प्रदर्शन करना पड़ा.तो वहीँ भारत के मना करने के बाद लाखों रोहिंग्या को बांग्लादेश ने बसा लिया. लेकिन अब बांग्लादेश को उस खौफनाक खुलासे से रौंगटे खड़े हो गए हैं.


इस ख़ुफ़िया खुलासे से बांग्लादेश सरकार के कान हुए खड़े

अभी मिल रही बहुत बड़ी खबर के मुताबिक करीब 3,89000 रोहिंग्या मुसलमानो ने बांग्लादेश में डेरा डाल लिया है. लेकिन बड़ा दिल दिखाने के चक्कर में अब बांग्लादेश को वो डर सताने लगा है जिसके बारे में भारत काफी वक़्त से चेता रहा था. यही वजह कि भारत ने एडवाइजरी जारी कर जो अवैध तरीके से रोहिंग्या घुस भी आये हैं उनको बाहर निकालने के आदेश जारी कर दिए है.

दरअसल बांग्लादेश में इतनी बड़ी संख्या में रोहिंग्या मुसलमानो के घुस जाने के बाद अब बांग्लादेश को भी अपने देश की सुरक्षा का डर सताने लगा है. बांग्लादेश सरकार को खबर मिली है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI रोहिंग्या मुस्लिमों की मदद से उनके देश में आतंकवाद बढ़ा सकती है. जिसके बारे में सोच-सोच कर ही बांग्लादेश सरकार के अब रौंगटे खड़े हो गए हैं.

निकला ISI कनेक्शन

बांग्लादेश के मीडिया की खबर के मुताबिक बांग्लादेश सरकार को ख़ुफ़िया जांच एजेंसियों ने बड़ी अहम जानकारी दी है. जिसके मुताबिक पाकिस्तान की ISI एजेंसी अराकान रोहिंग्या साल्वेशन आर्मी (ARSA) का गठन कर चुकी है. जिसके लिए वह इन रोहिंग्या का इस्तेमाल करेगी. ISI रोहिंग्या आर्मी की मदद से अब बड़े पैमाने पर आतंकवाद और देशविरोधी गतिविधियां उनके देश में शुरू करने वाली हैं. यही नहीं आने वाले चुनाव में रोहिंग्या की मदद से बांग्लादेश नेशनल पार्टी की मदद भी कर सकती है.

मोदी सरकार पर बना रहे विरोधी दबाव

आपको बता दें रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर मोदी सरकार पर बहुत दबाव बनाया जा रहा है कि वो रोहिंग्या को भारत में आने दे. जिसके लिए कई वामपंथी पत्रकार, कांग्रेस पार्टी, मायावती, लालू सब एक साथ रोहिंग्या के समर्थन में उतर आये हैं. यही नहीं बंगाल सीएम ममता बनर्जी ने तो यहाँ तक कह दिया है कि रोहिंग्या मुसलमानो का बंगाल में वे तहे दिल से स्वागत करती है. इससे पहले अवैध बांग्लादेशी को वह सफलतापूर्वक घुसवा चुकी हैं. सबके पास आधार और वोटर आईडी कार्ड भी है.


इसके साथ अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष ज़ैद बिन राद अल हुसैन भी भारत को हिदायत दे चुके हैं कि रोहिंग्या की मदद करिये. जिसके जवाब में मोदी सरकार मानवाधिकार को सख्त लहजे में बता चुकी है कि रोहिंग्या देश के लिए आतंकी खतरा हैं. जिनका कई आतंकवादी संगठन इस्तेमाल कर रहे है.

जयपुर में फैलाया गया था दंगा

इससे पहले अभी कुछ दिन पहले ही जयपुर में जो दंगा भड़काया गया, उसमें भी रोहिंग्या ही शामिल थे. 4 क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाना पड़ गया था. 4 पुलिस वाहन फूंक दिए, एम्बुलेंस जला दी गयी, पावर हॉउस में आग लगायी गयी.

आपको बता दें मोदी सरकार पहले ही ऐ एडवाइजरी जारी कर चुकी है जिसके साथ-साथ सुप्रीम कोर्ट में भी हवाला दे चुकी है कि रोहिंग्या मुस्लमान देश के लिए बहुत बड़ा आतंकी खतरा हैं. जिसके लिए सभी राज्य को ये आदेश दिए जा चुके हैं कि सभी अवैध रोहिंग्या को देश से बाहर निकाल दिया जाए. साथ ही बॉर्डर को आधुनकि लेज़र कैमरों की मदद से सील करवा दिया गया है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments