Home > ख़बरें > बड़ी खबर – भारत के खिलाफ रची जा रही गहरी साज़िश का हुआ बड़ा खुलासा,आंखें फटी रह जाएँगी आपकी

बड़ी खबर – भारत के खिलाफ रची जा रही गहरी साज़िश का हुआ बड़ा खुलासा,आंखें फटी रह जाएँगी आपकी

नई दिल्ली : आज कल एक प्रकार की बिमारी पूरे भारत देश में फैलती जा रही है. इसका जल्द ही इलाज नहीं किया गया तो यह देश भर में भारी नुक्सान पंहुचा सकती हैं. आसाम के गुवाहाटी में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच कल रात दूसरा टी-20 मैच खेला गया. जिसके बाद बांग्लादेशियों ने फिर दिखाई अपनी वो नीच हरकत जिसे वो पहले भी अपने देश में दोहराते रहे हैं और अब भारत के खिलाफ साज़िश रची जा रही है.


भारत को बदनाम करने की बड़ी साज़िश का खुलासा !

अभी मिल रही खबर के मुताबिक कल रात गुवाहाटी क्रिकेट स्टेडियम भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा टी-20 मैच खेला गया जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 8 विकेट से मात दी. जिससे तीन मैचों की सीरीज़ में 1-1 से बराबरी हुई. लेकिन मैच के बाद कुछ ऐसा हुआ जिससे ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम बहुत परेशान है. मैच ख़त्म होने के बाद ऑस्ट्रेलिया खिलाडी जब स्टेडियम से होटल लौट रहे थे तब ऑस्ट्रेलियाई टीम की बस पर पत्थरबाज़ी करी गयी. ओपनर एरोन फिंच ने ट्विटर और इंस्टाग्राम पर बस के टूटे हुए कांच की तस्वीर साझा करते हुए इस घटना की पुष्टि की है. हालांकि, इस हमले में कोई घायल नहीं हुआ.

आसाम में घुसाए गए थे अवैध बांग्लादेशी

आपको बता दें यह भारत की पहचान नहीं है हमारे यहाँ तो आज भी मेहमान को भगवान की तरह पूजा जाता है. दरअसल यह भारत की छवि खराब करने को कोशिश करी जा रही है. हमारे यहाँ विरोध होता है पर कभी पत्थरबाज़ी या बम धमाकों से खिलाडियों पर हमला नहीं होता. आसाम में 7 साल बाद कोई मैच खेला गया. आसाम में पिछली सरकारों में किस तरह के दंगे हुए ये तो आपको याद होगा ही. अभी तक वहां AFSPA लगाया गया है. केंद्र सरकार ने भी आसाम को अशांत क्षेत्र का दर्जा दिया है. आखिरकार आसाम में ही पत्थरबाज़ी क्यों हुई इसके पीछे की वजह आपको ज़रूर जाननी चाहिए.

पहले भी हुआ था हमला

पिछली सरकारों ने वोटबैंक के लालच में आसाम में जमकर बांग्लादेशियों को अवैध रूप से घुसवाया और बाद में उन्हें नागरिकता दे दी गयी. सबके राशन कार्ड और आधार कार्ड बने हुए हैं. आपको बता दें ये पत्थरबाज़ी की कश्मीरियत आयी कहाँ से है. दरअसल पिछले महीने ही ऑस्ट्रेलिया टीम बांग्लादेश में खेल कर आयी है. जिसमें चिट्टागोंग के आखिरी मैच में ऑस्ट्रेलिया ने बांग्लादेश को बुरी तरह हराया जिसके बाद ठीक ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम की बस पर ऐसे ही बंगलदेशियों द्वारा पथरबाज़ी करी गयी. लेकिन अब ख़बरों में बताया जा रहा है कि भारतीय फैंस हार से बौखला गए हैं. भारत लगातार 7 टी-20 मैच जीतता आ रहा है सिर्फ एक ही अभी हारा है. भारतीय फैंस द्वारा ऐसा कभी किसी राज्य में आज तक नहीं हुआ.


वामपंथी बिकाऊ मीडिया और देशद्रोही चला रहे हैं फर्जी खबरें

दरअसल ये सब साज़िश है भारत को बदनाम करने के लिए. इसमें मसाला लगाने का नाम हमारा बिकाऊ और वामपंथी मीडिया कर ही देता है. वे खबर चला रहे हैं “अब बांग्लादेश की तरह भारतीय फैंस भी बुरी तरह हार से बौखलाए, करी टीम पर पत्थरबाज़ी”. ये सारी साज़िश की जा रही है ताकि भारत को भी बदनाम किया जा सके और दूसरे बड़े देश की टीम भारत में डर से न आएं. ऐसे घटिया लोग खुद तो अपने देश को खुशहाल बना नहीं सकते. भारत को उजाड़ने चले आते हैं.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि टीम जब वापस लौट रही थी, उस दौरान बस की दाहिनी ओर हमला किया गया. गनीमत ये रही कि उस साइड कोई नहीं बैठा था. ऑस्ट्रेलियाई ओपनर एरोन फिंच ने ट्विटर पर तस्वीर भी शेयर की. घटना के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

कई खिलाड़ियों ने इस हमले की निंदा की. पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा ने इसको गैरजिम्मेदाराना हरकत बताया और माफी मांगी. उन्होंने कहा है कि उम्मीद है दोषी को सजा होगी.

इसके बाद हो भी वही रहा है जहाँ भारतीय फैंस इस हमले के लिए ऑस्ट्रेलिया से माफ़ी मांग रहे हैं तो वहीँ पाकिस्तानी और बांग्लादेशी इस हमले पर भारत को बदनाम कर रहे हैं जिसका मुहतोड़ जवाब कुछ भारतीय ज़रूर दे रहे हैं.

                            भारत खिलाडियों के लिए सुरक्षित नहीं है ये बोल रहे हैं पाकिस्तानी


यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments