Home > ख़बरें > हजारों की संख्या में उपद्रवियों का कश्मीरी पंडितों की कालोनी पर हमला

हजारों की संख्या में उपद्रवियों का कश्मीरी पंडितों की कालोनी पर हमला

kashmir attack

हिजबुल कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से कश्मीर घाटी में हिंसा का दौर रुकने का नाम नहीं ले रहा है। घाटी की स्थिति दिनों दिन बद से बदतर होती जा रही है। बुधवार को कर्फ्यू हटने के बाद कुपवाड़ा में हज़ारों की संख्या में उपद्रवियों नें सड़कों पर निकल कर देश विरोधी नारे लगाए तथा प्रदर्शन किए।

कुपवाड़ा जिले के नतनूसा इलाके में हजारों की संख्या में उपद्रवियों ने कश्मीरी पंडितों की कालोनी को ओर रूख किया। कश्मीरी पंडितों का कोई भी परिवार उस समय कालोनी में नहीं था। जिस के बाद उपद्रवियों ने वहां पर खड़े वाहनों पर पत्थर बरसा दिए।

सुरक्षाबलों से प्राप्त जानकारी के अनुसार कालोनी में रहने वाले पंडितों के परिवार पहले ही जम्मू चले गए हैं। हिंसा की सूचना मिलते ही भारी संख्या में सुरक्षाबलों को वंहा भेजा गया। सुरक्षाबलों को देखकर उपद्रवियों ने सुरक्षाबलों पर भी पथराव शुरू कर दिया। हालात को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षाबलों को आंसू गैसे के गोले दागने पड़े और हवाई फायरिंग करनी पड़ी। इस हिंसा के बाद इलाके में सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया गया है।


kashimir attackers

लश्कर-ए-इस्लाम नामक संगठन द्वारा कश्मीरी पंडितों को घाटी छोड़ने की धमकी मिली थी

पुलवामा में कुछ ही दिन पहले कश्मीरी पंडितों के कैंप के बाहर लश्कर-ए-इस्लाम नामक संगठन द्वारा धमकी भरे पोस्टर चिपकाए गए थे और चेतावनी दी गयी थी कि कश्मीरी पंडितों तथा आरएसएस के एजेंटों को घाटी में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पंडितों को घाटी से चले जाने की चेतावनी भी दी गयी थी।

हालांकि कर्फ्यू हटाने के बाद श्रीनगर में लोग दूध, सब्जियां तथा अन्य जरुरी चीजें खरीदनें बाजार आए। कुछ वाहन भी सड़को पे दिखाई दिए मगर मुख्य बाजार तथा शिक्षा संस्थान लगातार 54वें दिन भी बंद ही रहे।


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments