Home > ख़बरें > आतंकी हमलों से ठनका पीएम मोदी का माथा, कश्मीर में अलगाववादी नेता का कर दिया कांड !

आतंकी हमलों से ठनका पीएम मोदी का माथा, कश्मीर में अलगाववादी नेता का कर दिया कांड !

modi-asiya-andrabi

श्रीनगर : अलगाववादी नेताओं ने जम्मू कश्मीर की पुलिस की नाक में काफी वक़्त से दम कर रक्खा था. ख़बरों की माने तो इन अलगाववादी नेताओं का घाटी में अशांति फ़ैलाने, वहां के लड़कों-लड़कियों एवम सभी नागरिकों को सुरक्षाबलों के खिलाफ भड़काने, पत्थरबाज़ी करवाने, पाकिस्तान और ISIS का झंडा लहरवाने और अनेक देशद्रोही गतिविधियों में बड़ा हाथ माना जाता है. ताज़ा ख़बरों के अनुसार जम्मू-कश्मीर की पुलिस के हाथो बड़ी कामयाबी लगी है जिससे सभी अलगाववादी नेताओं की आंखें फटी रह गयी हैं.


पिछले महीने की ही बात है मार्च में अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी का एक यूट्यूब वीडियो वायरल हुआ था जिसमे उसने श्रीनगर में बहुत सारे पाकिस्तानी झंडों के साथ, कुछ बुरका पहनी महिलाओं के साथ देश विरोधी नारे लगाए थे और पाकिस्तान का राष्ट्रगान भी गाया था. यही नहीं उसे श्रीनगर में पाकिस्तान दिवस मानते हुए वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है.

खबर आ रही है की जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बुधवार रात भारी पुलिस बल के साथ अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी को रातों-रात उसके घर से धर-दबोचा है और गिरफ्तार कर लिया है.

कौन है आसिया अंद्राबी !

आसिया अंद्राबी 2008 में जब 14 साल की थी, तब से खूंखार आतंकवादी हाफिज सईद के आतंकवादी संगठन जमात-उद-दावा में मदद कर रही थी. यहाँ आपको बता दें कि आसिया, दुख्तरान-ए-मिल्लत नाम के संगठन की चीफ भी है. इस संगठन को भारत सरकार ने आतंकवादी संगठन घोषित कर रक्खा है. यही नहीं इसका पति आशिक हुसैन फक्‍तू जो कि हिजबुल मुजाहिद्दीन का कमांडर है, 1992 से वो जेल की हवा खा रहा है.

क्या है आसिया अंद्राबी पर आरोप !

आसिया को महिला जिहादियों के नेटवर्क की मुखिया के तौर पर भी जाना जाता है. इसपर पाकिस्तान से मिलकर काम करने का भी आरोप लगा है, यही नहीं हाफिज सईद ने भी आसिया अंद्राबी से फ़ोन पर बात करने की बात कबूली थी. इसका संगठन दुख्तरान-ए-मिल्लत कश्मीर में इस्लामिक क़ानून लागू करवाना चाहता है और कश्मीर को एक अलग राष्ट्र बनाने की बात भी ये अपनी वीडियो में करती रहती है. 12 सितम्बर 2015 को भी इसने एक वीडियो जारी किया था जिसमे कश्मीर में बीफ प्रतिबन्ध के खिलाफ इसने गाय काटने का वीडियो बनाकर विवाद खड़ा किया था.

आतंकवादियों की ट्रेनिंग के लिए बनाती है वीडियो !

आसिया अंद्राबी आतंकवादियों के बीच बड़ी मशहूर है, पाकिस्तान में आतंकवादियों की ट्रेनिंग के वक़्त इसी के वीडियो दिखाए जाते हैं, जिसमे ये भारत के टुकड़े करने और कश्मीर को आज़ादी दिलाने की बात करती है. लश्कर-ए-तैयबा के 21 साल के आतंकवादी बहादुर अली उर्फ सैफुल्लाह ने अपने बयान में बताया था कि भारत के खिलाफ जिहाद करने के लिए इसके वीडियो दिखाए जाते हैं. यही नहीं ये कश्मीर में महिलाओं छोटे बच्चों और नागरिकों को सुरक्षाबलों पर पत्थर फेकने के लिए भड़काती है, हालांकि इसके भी दो बेटे हैं लेकिन ये इतनी शातिर है कि अपने बच्चों से पत्थरबाजी नहीं करवाती है. इसका एक बेटा एक नामी स्कूल में ग्यारवीं क्लास में पढता है और दूसरा बेटा मलेशिया में इसकी बड़ी बहन के पास रहकर पढाई कर रहा है.

फिलहाल जम्मू-कश्मीर पुलिस अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी की गिरफ्तारी को बड़ी सफलता मान रही है, आने वाले वक़्त में और भी अलगाववादी नेताओं पर कार्यवाही की खबरें सामने आ सकती हैं.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments