Home > ख़बरें > सुबह-सुबह सेना ने घाटी में मचाया खूनी कोहराम,कश्मीर में चारों तरफ फैला मातम मची चीख पुकार

सुबह-सुबह सेना ने घाटी में मचाया खूनी कोहराम,कश्मीर में चारों तरफ फैला मातम मची चीख पुकार


श्रीनगर : भारतीय सेना के ज़बरदस्त मिशन “कासो” को एक बार फिर बड़ी कामयाबी मिली है. सेना ने कश्मीर से आतंकवाद को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए जो दो ज़बरदस्त मिशन “कासो और आलआउट” चलाये हुए हैं उनसे अब आतंकवादियों का तेज़ी से खत्मा हो रहा है. इस बीच आ रही खबर के अनुसार सेना ने एक बार फिर घाटी में आतंकवादियों के खून से उनके नापाक आतंक के दाग धो कर दिखाया है.

सुबह-सुबह सेना ने घाटी मचाया कोहराम

अभी-अभी एएनआई न्यूज़ एजेंसी से बहुत बड़ी खुशखबरी सामने आ रही है जिसके मुताबिक भरतीय सेना और स्पेशल ऑफिसर ग्रुप ने मिलकर जम्मू-कश्मीर के सोपोर में लश्कर के दो और आतंकवादियों को जहन्नुम पहुंचा दिया है. अभी सुचना मिली है की दो से तीन आतंकी और छिपे हैं. इनकी तलाश सेना पूरे ज़ोर शोर से कर रही है. आशा है बहुत जल्द उन्हें भी उनके साथियों के साथ भून दिया जायेगा. मारे गए आतंकी के पास से AK47 और गोला बारूद पिस्तौल कई कारतूस बरामद हुए हैं.

मारे गए अब तक 144 आतंकवादी

अच्छी खबर यह है कि इसमें अभी तक सेना का कोई भी जवान घायल नहीं हुआ. मोदी सरकार द्वारा मिली 18 साल बाद “ऑपरेशन कासो” की ही ये सफलता है. केवल इसी अगस्त महीने तक 144 आतंकवादी को मौत के घाट उतरा जा चुका है. यानी पिछले साल का रिकॉर्ड 150 आतंकी बहुत जल्द टूटने वाला है. कई रक्षा विशेषज्ञों ने माना है कि पिछली सभी सरकारों ने सेना के हाथ बाँध रखे थे. लेकिन इस बार केंद्र में कोई मज़बूत सरकार आयी है. जितनी तेज़ी से आतंकवादी भर्ती नहीं हो रहे उसकी दुगनी तेज़ी से हमारी जाबांज़ सेना उनका सफाया कर रही है.

ऑपरेशन कासो की मदद से मिली ज़बरदस्त सफलता

सुरक्षाबलों को बारामूला जिले के सोपोर में कई आतंकवादियों के छुपे होने कि खबर मिली थी. जिसके बाद कोई एनकाउंटर में दखल न दे पाए इसके लिए ऑपरेशन कासो चलाया गया. जिसके तहत कई घेरे बनाकर आतंकियों को चारो तरफ से घेर लिया गया. घिरा हुआ देख आतंकियों ने गोलियां बरसानी शुरू कर दी. जिसके बाद सेना ने गोलियों में समय व्यर्थ न करते हुए एक के बाद केक कई बम धमाके से पूरे घर को ही उड़ा दिया. क्यूंकि सेना ने अब आतंकवादियों को ज़िंदा पकड़ना बंद कर दिया है.


शहीद लेफ्टिनेंट उमर फयाज का हत्यारा मारा गया

इससे पहले आपको बता दें शनिवार को ही सेना को एक और बड़ी कामयाबी मिली थी. दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम के बेहीबाग जाबांज़ सेना ने लश्कर के खूंखार आतंकवादी इश्फाक पद्दार को मार गिराया था. ये वही आतंकी है जिसने बेरहमी से लेफ्टिनेंट उमर फयाज का अपहरण कर उनकी हत्या करी थी. जिसके बाद से सेना को इसकी पुरज़ोर तलाश थी.

आपको बता दें ऑपरेशन कासो और आलआउट के तहत 4000 से ज़्यादा खास कमांडोज और सेना आतंकवादियों को ढूंढ-ढूंढ कर मार रही है. साथी केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी NIA ने अलगाववादियों पर नकेल लगा रखी है जिससे आतंकी चूहे की तरह बिल से निकल रहे हैं जिसके चलते सेना को उनका काम तमाम करने में ज़्यादा आसानी हो रहे है.

ज़ाकिर मूसा ने हिंदुस्तान के खिलाफ उगला ज़हर

ऐसी ही हड़बड़ाहट मोस्ट वांटेड आतंकवादी ज़ाकिर मूसा की वीडियो में देखी गयी थी. जिसमें उसने फिर कश्मीरियों को भड़काते हुए कहा था की भारत में गौ प्रेमी पीएम मोदी से हिंदुस्तान को आज़ाद कराना है. साथ ही वो उनके आगे गिड़गिड़ा कर भीख मांग रहा था कि कश्मीर की आज़ादी में उनका साथ दें. सेना को अब इस मोस्ट वांटेड ज़ाकिर मूसा की सबसे ज़्यादा तलाश है. इसमें मरते ही हिज़्बुल आतंकी संगठन की आधे से ज़्यादा ताक़त खत्म हो जाएगी.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments