Home > ख़बरें > अभी-अभी : टूट गया भारतीय सेना प्रमुख के सब्र का बाँध, पाकिस्तान के खिलाफ हाहाकारी आदेश जारी

अभी-अभी : टूट गया भारतीय सेना प्रमुख के सब्र का बाँध, पाकिस्तान के खिलाफ हाहाकारी आदेश जारी

bipin-rawat-pak-war

नयी दिल्ली : भारत- पाक सीमा पर आये दिन संघर्ध विराम के उल्लंघन और आतंकवादियों के एलओसी पार करने से इस वक़्त तनाव उत्पन्न हो गए हैं. जब से पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम ने भारतीय सेना के दो जवानों के साथ बर्बरता पूर्वक व्यव्हार किया है, तब से सेना का गुस्सा शांत नहीं हुआ है.

इस वक़्त भी सेना के जनरल बिपिन रावत समेत सभी उच्च सैन्य अधिकारी कश्मीर में मीटिंग कर रहे हैं. एक के बाद एक पाकिस्तान के तीन दिन में 20 से ज़्यादा आतंकवादियों को मार गिराया, बुरहान वानी के आतंकी दोस्त सबज़ार भट्ट को भी घेर कर मार दिया गया. यही नहीं हाल ही में दुबारा आतंकवादियों ने उरी जैसा हमला करने की साज़िश रची जिसमें फिर से चार आतंकवादियों को मार दिया गया.

भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत की सभी सेना के अधिकारीयों को खुली छूट

पिछले कुछ महीने में पाकिस्तान की तरफ से संघर्षविराम उल्लंघन की घटनाओं में बढ़ौतरी हुई है. जिसपर आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने मिडिया से कहा कि पाकिस्तान के पाप का घड़ा अब भर चूका है, उसके खिलाफ अब अगर हमें सबसे कड़ा फैसला भी लेना पड़ा तो हम हिचकेंगे नहीं. आर्मी चीफ ने स्पष्ट संकेत दिए कि पाकिस्तान के खिलाफ बड़ा युद्ध छेड़ा जा सकता है, जिसके जरिये सेना अंदर घुसकर पाक में चल रहे आतंकी कैम्पों का सफाया करने के बारे में विचार कर रही है.

पिछले पांच छः दिन से भारतीय सेना के प्रमुख बिपिन रावत वरिष्ठ कमांडरों के साथ कश्मीर में ही मीटिंग कर रहे हैं. इस मीटिंग में उन्होंने खुली छूट  देते हुए अपने अधिकारीयों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि पत्थरबाज हो या आतंकवादी, किसी को नहीं बख्शना है. अब जो भी कड़ा कदम उठाना हो उसमे बिना हिचक के अंजाम की चिंता किये बगैर करें कार्यवाही.

भारत सेना के डीजीएमओ ने पाकिस्तान को फ़ोन पर दी अंतिम चेतावनी

इसके बाद पाकिस्तान के डीजीएमओ ने भारत से शांति वार्ता का प्रस्ताव रखते हुए भारतीय सेना के डीजीएमओ को फ़ोन किया, वहां भी उसे भारत से मुँह की खानी पड़ी. भारतीय सेना के डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने पाकिस्तान के डीजीएमओ जनरल साहिर शमशाद मिर्जा को फ़ोन पर कड़े तेवर दिखाते हुए चेतावनी दी कि अगर पाकिस्तानी सेना आतंकवादियों को इसी तरह घुसपैठ करवाती रही और सीमा पर गोली बारी करती रही तो भारतीय सेना जल्द ही अपना संयम खो बैठेगी और उसके बाद जो होगा उसकी जिम्मेदारी पाकिस्तान खुद होगा.

पाक फ़ौज ने डाले हथियार

पाकिस्तान के साहिर शमशाद मिर्जा के अनुरोध पर सोमवार सुबह 10:30 बजे फोन पर दोनों देशों के सैन्य कमांडरों के बीच बातचीत हुई. जिसमें पाकिस्तान ने भारत से शांति प्रस्ताव जताते हुए सहयोग माँगा और आतंकी घुसपैठ के संबंध में कार्रवाई करने के लिए सबूत देने कि मांग रक्खी.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments