Home > ख़बरें > अमेरिका का पाकिस्तान के खिलाफ अब तक का सबसे बड़ा कदम, दहल उठा पाकिस्तान

अमेरिका का पाकिस्तान के खिलाफ अब तक का सबसे बड़ा कदम, दहल उठा पाकिस्तान

trump-usa-pakistan

नई दिल्ली : आये दिन भारत पर आतंकी हमले करवाने और अपने परमाणु बमों की गीदड़ भभकी देने वाले पाकिस्तान के लिए पहली मुश्किल तो तभी खड़ी हो गयी थी जब नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री पथ की शपथ ली थी और ये मुश्किल तब और बढ़ गयी जब डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका के राष्ट्रपति बन गए. अभी-अभी आयी खबर के मुताबिक़ पाकिस्तान को अब सबसे बड़ा झटका लगने वाला है.

पाकिस्तान स्टेट स्पॉन्सर ऑफ टेररिज्‍म एक्‍ट

अपनी धरती से आतंकवाद प्रायोजित करना अब पाकिस्तान को बहुत भारी पड़ने वाला है. आतंकवाद के मामले में अमेरिका के एक कद्दावर सांसद ने पाकिस्तान के साथ अमेरिका के संबंधों को लेकर दोबारा विचार करने की मांग कर दी है, और इसके लिए कांग्रेस में बाकायदा एक विधेयक भी पेश कर दिया गया है. विधेयक में पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित करने की मांग भी की गयी है. आतंकवाद संबंधी सब-कमेटी के अध्यक्ष टेड पो ने कल लोकसभा में “पाकिस्तान स्टेट स्पॉन्सर ऑफ टेररिज्‍म एक्‍ट” पेश किया.

टेड पो के मुताबिक़ भले ही अमेरिका, पाकिस्‍तान को एक भरोसेमंद सहयोगी मानता हो लेकिन हकीकत तो यही है कि पाकिस्तान ने सदा ही अमेरिका के दुश्‍मनों की सहायता की है. पकिस्तान ने अमेरिका पर हमला करने वाले ओसामा बिन लादेन को भी अपने देश में छुपने की जगह दी. एक ओर तो पाकिस्तान हक्‍कानी नेटवर्क को ख़त्म करने के लिए अमेरिका से आर्थिक सहायता लेता रहता है और पीठ पीछे वो हक्‍कानी नेटवर्क के साथ ताल्लुकात भी रखता है. टेड पो के मुताबिक़ पाकिस्तान एक धोखेबाज देश है.


उनके मुताबिक़ अब वक़्त आ गया है कि अमेरिका, पाकिस्‍तान को धोखेबाजी की सजा दे. इसके साथ ही उन्‍होंने अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप से मांग की है कि वो अमेरिका की ओर से पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक मदद को बंद कर दें और उसे एक आतंकी देश घोषित कर दें.

आतंक का खेल अब ज्यादा दिन नहीं चलेगा

इस विधेयक में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप से 3 महीनों के अंदर एक रिपोर्ट जारी करके इस बात की जानकारी देने को कहा गया है कि अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद से निपटने में पाकिस्तान ने क्या मदद की है. इसके साथ-साथ विदेश मंत्री से भी मांग की गयी है कि वो 1 महीने के अंदर पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित करने के बारे में पूरा ब्‍यौरा देने वाली एक फाओअप रिपोर्ट दाखिल करें, और यदि पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित नहीं किया जाता है तो उन कानूनी कारणों के बारे में भी बताएं जिनकी वजह से ऐसा नहीं किया जा रहा है.

जिस तरह के हालात बन रहे हैं उन्हें देखते हुए ये कहना गलत नहीं होगा कि जल्द ही पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित कर दिया जाएगा. इसके साथ ही अमेरिका की ओर से उसे दी जाने वाली आर्थिक मदद भी बिलकुल बंद कर दी जायेगी. जिसके बाद चीन भी ज्यादा दिन तक पाकिस्तान का साथ नहीं दे पायेगा और पाकिस्तान को या तो आतंक का अपना खेल ख़त्म करना होगा या फिर पाकिस्तान खुद-ब-खुद ख़त्म हो जाएगा.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments