Home > ख़बरें > अमेरिका से आयी ये खबर पढ़कर आपकी आँखें फटी रह जाएंगी, देखे बिना यकीन ही नहीं करेंगे आप

अमेरिका से आयी ये खबर पढ़कर आपकी आँखें फटी रह जाएंगी, देखे बिना यकीन ही नहीं करेंगे आप

usa-saving-cow

नई दिल्ली : नरेंद्र मोदी जब से भारत के प्रधानमंत्री बने हैं तब से देश-विदेश में भारत के मान-सम्मान में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है. वहीँ भारत के लोगों ने भी अपनी ईमानदारी और लगन की वजह से दुनिया में अपनी एक विशेष पहचान स्थापित की हुई है. भारत की संस्कृति का आदर भले भारत के ही कुछ लोग ना करते हैं लेकिन विदेशों में स्थिति पूरी तरह से बदलती जा रही है. अभी-अभी अमेरिका से एक ऐसी खबर आयी है जिसपर यकीन करना भी मुश्किल हो रहा है.

अमेरिका में विश्व शान्ति के लिए गायों का सरंक्षण

भारत में गाय के नाम पर अक्सर ही राजनीति होती आयी है. गाय बचाने की बात करने वाले नेताओं को अक्सर ही साम्प्रदायिक करार दिया जाता है. लेकिन अमेरिका में ठीक इसका उलटा हो रहा है. अमेरिका में लोगों ने गायों के संरक्षण का अभियान शुरू कर दिया है. गौरतलब है कि अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रम्प भी हिन्दू संस्कृति से काफी प्रभावित हैं और हिंदुओं की अक्सर ही तारीफ़ करते आये हैं.

इस अभियान की शुरुआत अमेरिका में बसे कुछ हिंदुओं ने की थी लेकिन अब इसमें अमेरिकन नागरिक भी बढ़-चढ़ कर भाग ले रहे हैं. इन लोगों के मुताबिक़ गायों की रक्षा करके उन्होंने शांति को बढ़ावा देने के लिए ये पहल की है. अब इस अभियान के तहत कई अमेरिकी लोगों ने गायों को जान से मारे जाने से बचा कर अन्य लोगों को भी ऐसा करने के लिए समझाना शुरू कर दिया है.


इस अभियान के तहत अमेरिका के एरिजोना में अब तक कई गायों को कत्लखानों में जाने से बचाया जा चुका है. बचाई गयी गायों के लिए इन लोगों ने काऊ सैंक्चुअरी नाम की एक गौशाला भी शुरू की है. गाय को बचाने के काम में लगे ये लोग अब सभी को यह समझाते हैं कि कैसे पारिस्थितिकी का संतुलन बनाये रखने के लिए इन जानवरों को बचाना बेहद जरुरी है.

अमेरिकी मीडिया का भी समर्थन

सबसे बड़ी बात तो ये है कि अमेरिकी मीडिया में इस अभियान की काफी तारीफ़ की जा रही है. एक अमेरिकी अखबार “केसा ग्रैंड डिस्पैच” ने तो इस समूह के लोगों का इंटरव्यू लेकर इनकी गतिविधियों पर बाकायदा एक रिपोर्ट भी तैयार की है. इस अखबार में छपी खबर के अनुसार इस समूह से जुड़े लोगों का मानना है कि पशुओं के प्रति दया का भाव मनुष्यों के प्रति दयालुता के लिए भी प्रेरित करता है और इससे दुनिया और भी ज्यादा खूबसूरत होती है.

अखबार में छपी रिपोर्ट के अनुसार यहां गौशाला में गायों को प्यार और सम्मान दिया जाता है. गायें घास खाती हैं जो मनुष्य के लिए कुछ ख़ास उपयोगी नहीं होती और बदले में उनका गोबर मनुष्यों के खेतों के लिए काफी अच्छा होता है. गायों के गोबर से सतही मृदा का संरक्षण होता है जिससे भविष्य के लिए टिकाऊ पारिस्थितिकी विकसित होती है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments