Home > ख़बरें > राहुल गांधी ने डुबोई गठबंधन की नैय्या… खुद ही बता दिया कितनी कम सीटें मिलेंगी !

राहुल गांधी ने डुबोई गठबंधन की नैय्या… खुद ही बता दिया कितनी कम सीटें मिलेंगी !

akhilesh-rahul-up

नई दिल्ली : यूपी चुनाव जीतने के लिए सपा ने कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लिया था. अखिलेश यादव भी जी-जान से प्रचार में लगे हुए हैं और अपनी हर रैली में गठबंधन के 300 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा भी कर रहे हैं. लेकिन लगता है की अखिलेश के गठबंधन के साथ राहुल गांधी उनकी 300 सीटों को 30 करवा कर ही मानेंगे.


मोदी विरोध के चक्कर में जोश में आकर वो बार-बार कुछ ऐसा बोल जाते हैं जिससे अखिलेश यादव की दिक्कतें बढ़ जाती हैं. बनारस में चुनाव प्रचार के दौरान भी राहुल ने कुछ ऐसा कह दिया जिससे सुनकर अखिलेश भी जाहिर तौर पर परेशान हो गए होंगे. राहुल को समझना चाहिए कि गठबंधन में दोनों दलों कि बातों में अंतर नहीं होना चाहिए वरना जनता भी भ्रमित हो जाती है.

लेकिन राहुल तो फिर राहुल ही हैं, कभी तो वो यूपी बेरोजगारी का मुद्दा उठा कर फजीहत करवाते हैं तो कभी आलू की फैक्ट्री लगाने के नाम पर मजाक उड़वाते हैं. बनारस में पीएम मोदी पर हमला करने के चक्कर में अपनी भोकाली झाड़ने में लगे राहुल ने पहले तो कहा कि अपने पैसे संभाल लो नहीं तो गब्बर आ जाएगा. फिर यूपी कि मशहूर चीजों के बारे में बात करते-करते उन्होंने कह दिया कि बनारस में लोग साड़िया बनाते थे. अब इस बात में भला “थे” लगाने कि क्या जरुरत थी क्योंकि बनारस में तो लोग आज भी साड़ियां बनाते हैं.


इतने पर भी वो नहीं रुके और उन्होंने अखिलेश के 300 सीटों के दावे को 250 बना दिया. उन्होंने कहा कि यूपी में गठबंधन कि सरकार बनेगी और फिर उन्होंने 250 सीटें जीतने का दावा ठोक दिया. इस बयान के बाद उनके विरोधियो ने उन्हें हाथों-हाथ ले लिया. विरोधियों ने कहा कि राहुल को भी अंदाजा हो गया है कि कांग्रेस कि क्या गत होने वाली है इसीलिए उन्होंने अपने आंकड़े को 300 से 250 कर लिया है. बाकी दो चरणों के मतदान होते-होते तक उनका ये आंकड़ा और भी कम होता चला जाएगा. राहुल के मुह से आखिर सच्चाई निकल ही गयी.

आपको बता दें की इससे पहले पीएम मोदी भी उनके आलू की फैक्ट्री वाले बयान की चुटकी ले चुके हैं. राहुल के ऐसे ही बचकाने बयानों के चलते कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित ने कह दिया था कि अभी राहुल मच्योर नहीं हुए हैं, उन्हें थोड़ा और वक्त देना चाहिए. जिसके बाद भी सोशल मीडिया पर राहुल की खूब खिंचाई हुई थी. अब यूपी में अपने इन नए बयानों से वो एक बार फिर विरोधियों के निशाने पर आ गए हैं.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments