Home > ख़बरें > खुशखबरी – पीएम मोदी का आम आदमी को शानदार तोहफा, अब और मज़ेदार होगी आपकी यात्रा

खुशखबरी – पीएम मोदी का आम आदमी को शानदार तोहफा, अब और मज़ेदार होगी आपकी यात्रा


नई दिल्ली : अब तक की पिछली कांग्रेस सरकार जो कभी सोच भी नहीं सकती थी वो अब पीएम मोदी ने कर दिखाया है. कई सरकारी दफ्तरों के साथ साथ अदालतों को कागज़ से छुट्टी दिलाकर मोदी ने एक डिजिटल युग की शुरुआत कर दी है. अभी कुछ वक़्त पहले ही पीएम मोदी ने आम आदमी के लिए हवाई यात्रा को सस्ती एवम सुगम करने के लिए उड़ान(उड़े देश का आम नागरिक) योजना की शुरुआत करी थी. अब उसी कड़ी में मोदी सरकार ने एक और शानदार फैसला लिया है जिससे आम नागरिक की यात्रा और मज़ेदार और झंझट मुक्त होगी.

अब हवाई यात्रा को और मजेदार बना देगा आधार, लम्बी कतारों से मिलेगी आज़ादी

ताज़ा खबर के अनुसार अब जल्द ही आने वाले कुछ ही महीनों में हवाई यात्रियों को टिकट बुक करते वक़्त आधार, पैन या पासपोर्ट नंबर जैसी डिजिटल पहचान जैसी जानकारियां भी साझा करने का एक विकल्प मिलेगा. ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि यात्रा से पहले होने वाले कागज़ी दस्तावेजों के झंझट से यात्रियों को तकलीफ न हो और दूसरा प्रमुख उद्देश्य हवाईअड्डों पर यात्रा को पूरी तरह कागज रहित बनाना है.


डिजिटल पहचान से होगी विमान यात्रा, खत्म होगा बोर्डिग पास, घंटों जाँच से मिलेगी मुक्ति

अभी यात्रियों को हवाईअड्डों के प्रवेश द्वार पर सीआइएसएफ जवान को कागजी या डिजिटल टिकट के साथ अपना कोई एक वास्तविक पहचान पत्र दिखाना पड़ता है. जैसे कि आधार कार्ड, पैन कार्ड, या वोटर आइकार्ड. इसके बाद अगर आपका टिकट कागजी है,तो एयरपोर्ट के अंदर संबंधित एयरलाइन काउंटर से कागजी बोर्डिग पास लेना पड़ता है. जिसके बाद ही सुरक्षा जांच के वक्त आपके बोर्डिग पास पर सुरक्षा मुहर लगाता है. लेकिन अभी भी आप इस झंझट से बचे नहीं हैं, इसके आगे भी बोर्डिग गेट पर इस मुहर युक्त बोर्डिग पास की जांच कर्मचारी करता है. विमान में यात्रा करने से पहले एक बार फिर एयरलाइन स्टाफ पुन: बोर्डिग पास की जांच करता है. इस प्रक्रिया में कभी कभी यात्रा में इतना वक़्त नहीं लगता है, जितना सुरक्षा जांच में लग जाता है.

डिजियात्रा से दस्तावेजों के बोझ से मिलेगी आज़ादी

केंद्रीय विमानन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि “आधार को किसी भी तरह से अनिवार्य नहीं बनाया जाएगा. अगर आप मौजूदा तरीके से यात्रा करना चाहते हैं तो उसका विकल्प भी रहेगा. डिजियात्रा के अनुसार एक बार आधार नंबर दर्ज कराने के बाद यात्री को मोबाइल फोन पर एसएमएस के जरिये एक डिजिटल क्यूआर कोड दिया जाएगा.बस सिर्फ अब आपको यह कोड दिखाना होगा. यह कोड ही अब आपका बोर्डिंग पास का काम करेगा और अब आप आराम से अपने विमान में सवार हो सकेंगे. साथ ही दस्तावेजों के बोझ और घंटों सुरक्षा जांच से भी मुक्ति मिल जाएगी.”


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हमारे साथ सीखिए ब्लॉग लिखना और घर बैठे कमाइए पैसे. तीन दिन का कोर्स ज्वाइन करने के लिए 9990166776 पर Whatsapp करें.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments