Home > ख़बरें > अभी-अभी : अफगानी सेना का ठनका माथा, पाक सैनिकों का किया जबरदस्त कांड, पाकिस्तान में तहलका !

अभी-अभी : अफगानी सेना का ठनका माथा, पाक सैनिकों का किया जबरदस्त कांड, पाकिस्तान में तहलका !

ashraf-ghani-nawaj-sharif

नई दिल्ली : पाकिस्तान और उसकी आतंकी गतिविधियों से केवल भारत ही नहीं बल्कि अफगानिस्तान भी त्रस्त हो चुका है. जहाँ एक ओर वो अपने ही देश में मौजूद तालिबानी आतंकियों से जूझ रहा है, वहीँ पाकिस्तान उन तालिबानी आतंकियों को भारत व् अफगानिस्तान के खिलाफ समर्थन देता आ रहा है. ऐसा लग रहा है कि पाकिस्तान का केवल एक ही लक्ष्य रह गया है, भारत के कश्मीर पर और अफगानी इलाकों पर कब्जा कर लेना. लेकिन अफगानिस्तान ने अब पाकिस्तान के खिलाफ कडा कदम उठाया है.


अफगानी सेना ने पाक सैनिकों पर की फायरिंग !

खबर आयी है कि आज अफगानिस्तानी सेना ने बलूचिस्तान में पाकिस्तानी सुरक्षाबलों पर जमकर गोलीबारी की. इस गोलीबारी के कारण कुछ पाक सैनिकों की मौत हो गई और करीब 17 लोग घायल हो गए. खबरों के मुताबिक़ चमन जिले के कली लुकमान और कली जहांगीर इलाक में अफगानी सेना ने पाक सैनिकों पर हमला किया. उनके इस ऑपरेशन का मकसद उस इलाके में मौजूद दो पाकिस्तानी चौकियों को उड़ाना था.

हालांकि अफगानी सेना के इस हमले के जवाब में पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग की लेकिन किसी भी अफगानी सैनिक के हताहत या मरने की खबर नहीं है. पाक सेना की मीडिया शाखा इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशन्स ने अपने एक बयान में कहा कि अफगान सीमा पुलिस ने फ्रंटियर कोर के सुरक्षाबलों पर फायरिंग की है. हालांकि उन्हें अभी तक ये नहीं पता कि अफगानी सेना ने ऐसा क्यों किया.

ख़बरों के मुताबिक़ रुक-रुक कर अभी भी फायरिंग जारी है. अफगानी सेना द्वारा की गयी फायरिंग के कारण पाकिस्तान ने चमन सीमा पर मित्रता द्वार को बंद कर दिया है. जिससे पाक-अफगान सीमा पर अब यातायात पर रोक लग गई है.


आपको बता दें कि इसी वर्ष ऐसा दूसरी बार हुआ है, जब चमन सीमा क्रॉसिंग को बंद किया गया है. फरवरी में एक के बाद एक हुए कई आतंकी हमलों के कारण भी पाकिस्तान ने ये क्रॉसिंग बंद की थी. उस वक़्त पाकिस्तान ने कहा था कि वो हमले अफगानिस्तान में छिपे आतंकवादियों ने किए थे.

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने ठुकराया पाक यात्रा का न्योता !

वहीँ एक और खबर के मुताबिक़ अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने पाकिस्तान के प्रमुख नागरिक और सैन्य अधिकारियों द्वारा दिए गए इस्लामाबाद की यात्रा के निमंत्रण को अस्वीकर कर दिया है. ये पाकिस्तान के लिए बड़ी ही फजीहत वाली बात कही जा रही है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अफगान राष्ट्रपति के उपप्रवक्ता दावा खान मिनापाल ने बताया कि गनी ने पाकिस्तान के प्रमुख अधिकारियों द्वारा इस्लामाबाद की यात्रा के लिए दिए गए निमंत्रण के लिए इंकार कर दिया है. पाक अधिकारियों से अफगान राष्ट्रपति ने कहा कि वो तब तक पाकिस्तान की यात्रा पर नहीं जाएंगे, जब तक कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान में हुए आतंकी हमलों के दोषियों को अफगानिस्तान को नहीं सौंप देता.

कुल मिलाकर देखा जाए तो पाकिस्तान की बुरी तरह से मिटटी पलीद हो गयी है. एक ओर अफगानिस्तान उसे हड़का रहा है और उसके सैनिकों को ठोक रहा है. वहीँ दूसरी ओर भारतीय सेना भी पाकिस्तान के खिलाफ मिशन को अंजाम देने जा रही है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments