Home > ख़बरें > मोदी सरकार का एक और धमाका, 42 आँखें करेंगी पाकिस्तान की खुराफातों का सदा-सदा के लिए अंत

मोदी सरकार का एक और धमाका, 42 आँखें करेंगी पाकिस्तान की खुराफातों का सदा-सदा के लिए अंत

radar-station-india-pakistan

नई दिल्ली : भारत में नागरिकों की सुरक्षा को लेकर मोदी सरकार पूरी तरह तत्पर है. आतंकी गतिविधियों को ख़त्म करने के लिए बड़े पैमाने पर बदलाव किये जा रहे हैं. इसी सिलिसिले में एक बड़ी खुशखबरी सामने आ रही है. आपको याद होगा कि कांग्रेस के वक़्त पाकिस्तानी आतंकियों ने मुम्बई पर हमला किया था जिसमे बड़ी जान-माल की हानि हुई थी. वो आतंकी देश में समुद्री रास्ते से घुसे थे लेकिन अब ऐसा नहीं हो पायेगा.


आतंकियों के लिए समुद्री रास्ते सदा के लिए बंद

देश के तटों की सुरक्षा के लिए भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय ने 42 नए रडार स्टेशन स्थापित करने की मंजूरी दे दी है. केवल इतना ही नहीं बल्कि खासतौर पर पाकिस्तान की हरकतों पर नजर रखने के लिए कच्छ और खंबात की खाड़ी में दो वैसेल ट्रैफिक मैनजमेंट सिस्टम बनाये जाएंगे और इन्हें रडार स्टेशन से जोड़ा जायेगा. ये एक ऐसा बेमिसाल सिस्टम है जिसके जरिये से समुद्र में मौजूद सभी जहाज, युद्धपोत और बोट्स को ट्रैक किया जा सकता है.


रक्षा मंत्रालय के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर की अध्यक्षता वाली रक्षा खरीद परिषद ने आज 800 करोड़ रुपये के “कोस्टल सर्विलांस सिस्टम” प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी. बेंगलुरु स्थित सरकारी कंपनी बीईएल “बाई इंडिया’ कैटेगैरी के अन्तर्गत इन रडार स्टेशन्स को स्थापित करेगी. कुल 42 राडार स्टेशन में से 4 स्टेशन् मोबाइल होंगे.

इन राडार स्टेशनों के लगने के बाद से भारत के समुद्री तटों पर बिना इजाजत परिंदा भी पर नहीं मार पायेगा. यदि कोई भारत में अवैध रूप से घुसने की कोशिश करता भी है तो ये सिस्टम फ़ौरन उसे ट्रैक करके कोस्टल गार्ड्स को इसकी सूचना दे देंगे. जिसके बाद कोस्टल गार्ड्स उचित कार्रवाई करके बड़ी आतंकी घटना को होने से पहले ही रोक देंगे.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments