Home > ख़बरें > ब्रेकिंग -150 हिन्दू संगठनो ने लिया हाहाकारी फैसला, मुस्लिम संगठनों क़े पैरों तले खिसक गयी ज़मीन

ब्रेकिंग -150 हिन्दू संगठनो ने लिया हाहाकारी फैसला, मुस्लिम संगठनों क़े पैरों तले खिसक गयी ज़मीन


नई दिल्ली : वैसे तो लम्बे समाया से इससे पहले कई बार भारत को एक हिन्दू राष्ट्र बनाने की बात कही गयी है लेकिन इस बार कुछ ऐसा बड़ा होने वाला है जो इससे पहले कभी नहीं हुआ. लेकिन इस बार ऐसी खबर आ रही है जिसे देख विरोधियों नेताओं के भी होश उड़ गए हैं, एक या दो नहीं पूरे 150 हिन्दू संगठन एक साथ एक छत के नीचे, एक विशाल मंच पर जमा होने जा रहे हैं.

भारत को ‘हिंदू राष्ट्र’ बनाने के लिए एक छत के नीचे आएंगे 150 हिंदू संगठन

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के अनुसार भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने के लिए एक साथ 150 हिन्दू संगठन गोवा में 14 से 17 जून को एक विशाल सम्मलेन का आयोजन करने जा रहे हैं. हिंदू जनजागृति समिति सभी 150 हिंदू संगठनों के साथ मिलकर भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने का रोडमैप तैयार करेगी. समिति ने लक्ष्य रक्खा है, 2024 तक भारत को हिन्दु राष्ट्र बनाना ही होगा. इस सम्मलेन का नेतृत्व और संचालन हिंदू जनजागृती समिति (HJS) के द्वारा किया जा रहा है. ख़बरों के अनुसार हिंदू जनजागृती समिति के प्रवक्ता उदय धुरी ने कहा कि पूरा देश के लोग अब भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने के विचार से सहमत हैं. इसका सबसे बड़ा उदहारण अभी यूपी चुनाव में देखने को भी मिला है. विधानसभा चुनाव में योगी आदित्यनाथ के इतनी बड़ी जीत से ये बात साफ़ है कि लोग देश को हिन्दू राष्ट्र बनाना चाहते हैं.

हिंदू जनजागृति समिति के प्रवक्ता रमेश शिंदे क़े मुताबिक सीएम योगी भी हो सकते हैं शामिल

हिंदू जनजागृति समिति के प्रवक्ता रमेश शिंदे ने पत्रकारों से कहा है कि उन्होंने यूपी क़े सीएम योगी को भी इस सम्मलेन में शामिल होने का न्योता दिया है. समिति नेता ने बताया कि हालांकि बीजेपी के हैदराबाद के कुछ विधायक और शिवसेना के भी तमिलनाडु और गोवा के कुछ नेता इसमें शामिल रहेंगे. उन्होंने कहा कि जब संविधान में इतना बड़ा बदलाव कर क़े सेक्युलर शब्द को जोड़ा जा सकता है तो फिर इसी तरह हिंदू राष्ट्र शब्द को भी जोड़ना चाहिए.


2024 तक बनेगा हिन्दू राष्ट्र

शिंदे ने आगे कहा हमें विश्वास है कि साल 2024 तक भारत हिन्दू राष्ट्र बनेगा और हिंदू जनजागृती समिति ही इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए 150 हिन्दू संगठनों लाकर काम करना चाहता है. खबर के अनुसार इस सम्मलेन में लव जिहाद, धर्मांतरण, हिंदू धार्मिक स्थलों की सुरक्षा, हिंदू संतों को अपमान जैसे मुद्दों पर विस्तार से गहन चर्चा होगी.

हिंदू जनजागृती समिति की स्थापना 7 अक्टूबर 2002 में मनोचिकित्सक डॉ जयंत बालाजी आठवले ने करी थी. इसका उद्देश्य हिंदू राष्ट्र को स्थापित करना और हिंदू संस्कृति को संरक्षित करना है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

हमारे साथ सीखिए ब्लॉग लिखना और घर बैठे कमाइए पैसे. तीन दिन का कोर्स ज्वाइन करने के लिए 9990166776 पर Whatsapp करें.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments