Home > कारोबार > पैसे की जरूरत होने पर अपने पीएफ (PF) से इन शर्तों पर अब निकाल सकते हैं पैसे

पैसे की जरूरत होने पर अपने पीएफ (PF) से इन शर्तों पर अब निकाल सकते हैं पैसे

provident fund

अब प्रॉविडेंट फंड (पीएफ) से पैसे निकालना हुआ और भी आसान. यदि आप दो महीने या उससे अधिक समय से बेरोजगार हैं तो आप अपने प्रॉविडेंट फंड (पीएफ) अकाउंट से पूरा पैसा निकाल सकते हैं. अगर आप रोजगार हैं यानि यदि आपकी नौकरी अभी बरकरार है तो भी कुछ शर्तो पे आप पैसे अपने प्रॉविडेंट फंड (पीएफ) अकाउंट से निकाल सकते हैं. नीचे हम उन शर्तों का विवरण दे रहे हैं.

मकान खरीदने या बनाने के लिए

एम्पलॉयीज प्रॉविडेंट फंड ऑर्गनाइजेशन के नियमो के अनुसार यदि आप घर खरीदना या बनाना चाहते हैं तो अपने पीएफ अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं बशर्ते कि आप काम से काम पांच सालों से नौकरी कर रहे हों. इस स्थिति में आप आपकी 36 महीने के कार्यकाल की बेसिक सैलरी और डीए के बराबर या नियोक्ता और कर्मचारी के ब्याज समेत कुल कंट्रीब्यूशन, इनमें से जो भी न्यूनतम हो, के बराबर पैसे निकाल सकते हैं।

प्लॉट खरीदने के लिए

यदि आप प्लाट खरीदना चाहते हैं तब भी आप पीएफ अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं बशर्ते कि आप काम से काम पांच सालों से नौकरी कर रहे हों. इस स्थिति में आप आपकी 24 महीने के कार्यकाल की बेसिक सैलरी और डीए के बराबर या नियोक्ता और कर्मचारी के ब्याज समेत कुल कंट्रीब्यूशन या जितने पैसे में प्लॉट खरीद रहे हैं, इनमें से जो भी न्यूनतम हो, के बराबर पैसे निकाल सकते हैं।

घर की रिपेयरिंग करवाने के लिए

अपने घर की मरम्मत करवाने के लिए भी आप पीएफ अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं बशर्ते कि आप काम से काम पांच सालों से नौकरी कर रहे हों. इस स्थिति में आप आपकी 12 महीने के कार्यकाल की बेसिक सैलरी और डीए के बराबर या नियोक्ता और कर्मचारी के ब्याज समेत कुल कंट्रीब्यूशन या जितने पैसे में मरम्मत में खर्च कर रहे हैं, इनमें से जो भी न्यूनतम हो, के बराबर पैसे निकाल सकते हैं।

अगर होम लोन लिया है

अगर कोई होम लोन लिया हुआ है तो आप नौकरी के 10 साल पूरे होने के बाद अपने पीएफ अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं. इस स्थिति में आप आपकी 36 महीने के कार्यकाल की बेसिक सैलरी और डीए के बराबर या नियोक्ता और कर्मचारी के ब्याज समेत कुल कंट्रीब्यूशन, इनमें से जो भी न्यूनतम हो, के बराबर पैसे निकाल सकते हैं।


मेडिकल ट्रीटमेंट करवाना हो

अगर मेडिकल ट्रीटमेंट करवाना है तब भी पीएफ अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं बशर्ते एक महीने या उससे अधिक के लिए हॉस्पिटलाइजेशन हुआ हो। मेडिकल ट्रीटमेंट के मामले में पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने में इसके अलावा टेन्योर संबंधी कोई शर्त नहीं है।

बच्चे की हायर शिक्षा के लिए

अगर आपके बच्चे को स्कूल के बाद की शिक्षा लेने के लिए पैसे की आवश्यकता है तो भी आप पीएफ अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं। बशर्ते पीएफ अकाउंट खोले सात साल हो गया हो। इस स्थिति में आप एंप्लॉयी के हिस्से के ब्याज समेत कंट्रीब्यूशन का कुल 50 फीसदी निकाल सकते हैं। आप इस प्रकार से तीन बार पैसे निकाल सकते हैं। पहली बार अपने लिए, दूसरी बार अपने बच्चे की पढाई के लिए और तीसरी बार अपने भाई या बहन की शादी के लिए पैसे निकाल सकते हैं।

मगर इन बातों पर अवश्य ध्यान दें

अगर आप जॉइंट प्रॉपर्टी के शेयर खरीदना चाहते हैं या किसी ऐसे प्लाट पे मकान बनवाते हैं जो की जॉइंट हक़ वाला है तो आप पीएफ से पैसे नहीं निकाल सकते। हाँ मगर यदि जॉइंट हक़ आपकी पत्नी या फिर आपके पति का है तो आप पैसे निकाल सकते हैं

पैसे निकालने की प्रक्रिया

अगर आप ऊपर दिए किसी भी कारण से पैसे निकालना चाहते हैं तो फॉर्म 31 भरकर इसे डिक्लेरेशन के साथ जमा करवाना होगा।


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments