Home > मुख्य ख़बरें > सीएम योगी का सबसे बड़ा फैसला, अखिलेश, मुलायम, मायावती समेत कई अन्य नेताओं में मचा हड़कंप

सीएम योगी का सबसे बड़ा फैसला, अखिलेश, मुलायम, मायावती समेत कई अन्य नेताओं में मचा हड़कंप

yogi-adityanath-akhilesh

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वैसे तो पद की शपथ लेने के बाद से लगातार बड़े-बड़े फैसले करके देशभर को चौंकाते आ रहे है, लेकिन अब वो जो बेहद हैरतअंगेज फैसला करने जा रहे हैं उसे देख यूपी की पिछली सपा सरकार के मंत्रियों से लेकर खुद अखिलेश तक के होश उड़े हुए हैं.

सरकारी बंगलों से होंगे बेदखल !

यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अबकी बार अखिलेश सरकार के एक बड़े फैसले को पलटने का मन बना लिया है. दरअसल, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री आवास नियम 1997 के तहत यूपी के पूर्व सीएम पद से हटने के बाद भी जीवन भर सरकारी आवास में रह सकते थे.

12 साल पहले 2004 में लोक प्रहरी नाम की एक संस्था ने इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में एक पीआईएल की थी. इस पीआईएल में कहा गया था कि उत्तर प्रदेश सरकार पूर्व मुख्यमंत्रियों के लिए करोड़ों के आवास एलॉट कर रही है. यदि इस फैसले को रद्द नहीं किया जाता है तो अन्य राज्यों में भी ऐसी ही मांग उठेगी.

कई वर्षों तक चली सुनवाई के बाद आखिरकार सुप्रीम कोर्ट ने अपना निर्णय सुनाते हुए सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को दो महीने के अंदर सरकारी बंगले खाली करने का आदेश दिया. 1 अगस्त, 2016 को सुप्रीम कोर्ट ने इस पूर्व मुख्यमंत्री आवास नियम 1997 को खारिज कर दिया था. लेकिन पुराने नेता कबसे इतनी आसानी से सरकारी बंगले खाली करने लगे?

मुख्यमंत्री बंगले को अखिलेश ने बना लिया निवास !

इसी के चलते सुप्रीम कोर्ट के फैसले के जवाब में तत्कालीन अखिलेश सरकार ने एक कदम आगे बढ़ाते हुए केवल महीने भर के अंदर-अंदर 30 अगस्त 2016 को विधानसभा में उत्तर प्रदेश मंत्री (संशोधन) विधेयक-2016 पारित करा लिया. इस विधेयक के तहत ना केवल मुख्यमंत्री, मंत्री, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और राज्यमंत्री के वेतन भत्तों को पुनरीक्षित किया गया बल्कि सुरक्षा के कारणों के चलते पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी आवास व् अन्य सुविधाएं भी दोबारा मिल गईं.

केवल इतना ही नहीं बल्कि इस विधेयक के पारित होने के बाद खुद तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने पिता पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के आवास को अपने नाम से एलॉट करवाया और खुद वहां रहने लगे. चुनाव हारने के बाद भी बतौर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यहीं रह रहे हैं.

योगी पलटेंगे फैसला !

लेकिन खबर सामने आ रही है कि अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को एलॉट किये गए सरकारी बंगलों को खाली कराने का मन बना लिया है. योगी अब यूपी की पिछली अखिलेश सरकार के इस बड़े फैसले को पलटने की तैयारी में लगे हैं. इस फैसले के पलटते ही यूपी के सभी पूर्व मुख्यमंत्री जैसे अखिलेश, मुलायम, मायावती, राजनाथ सिंह और एन.डी. तिवारी अपने-अपने सरकारी बंगलों से बेदखल हो जाएंगे.

पहली कैबिनेट मीटिंग में करेंगे फैसला !

फिलहाल जो खबर सामने आ रही है उसके मुताबिक़ योगी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को ही लागू करने का फैसला लिया है. योगी सरकार ने संशोधन बिल को लेकर कानूनी राय लेनी भी शुरू कर दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ प्रदेश की पहली कैबिनेट मीटिंग में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस पर फैसला ले लेंगे.

अखिलेश सरकार के इस फैसले के पलटते ही सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव, बीएसपी सुप्रीमो मायावती, पूर्व कांग्रेसी नेता एन.डी. तिवारी के साथ-साथ बीजेपी नेता कल्याण सिंह और गृहमंत्री राजनाथ सिंह को सरकारी आवास खाली करना होगा. इसके साथ ही यूपी के कई अन्य बड़े पूर्व नेताओं को भी अपने-अपने सरकारी आवास से हाथ धोना पड़ जाएगा.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments