Home > मुख्य ख़बरें > ब्रेकिंग- रौंद्र रूप में आये डोनाल्ड ट्रम्प, पाकिस्तान के खिलाफ करी अबतक की सबसे बड़ी कार्रवाई

ब्रेकिंग- रौंद्र रूप में आये डोनाल्ड ट्रम्प, पाकिस्तान के खिलाफ करी अबतक की सबसे बड़ी कार्रवाई

trump-strict-actions-against-pakistan

नई दिल्ली : डोनाल्ड ट्रंप के अमेरिका के राष्ट्रपति बनते ही पाकिस्तान की रातों की नींद और दिन का चैन तक हराम हो गया है. पाकिस्तान को जिस बात का डर सबसे ज्यादा सता रहा था वो आखिर सामने आ ही गया. अमेरिका ने पाकिस्तान के खिलाफ एक के बाद एक कई कड़े कदम उठाये हैं, जिसके बाद से पाकिस्तान में हाहाकार मचा हुआ है.


पाकिस्तान को दी जाने वाली मदद की रकम में भारी कटौती

गौरतलब है कि अमेरिका 2011 से पाकिस्तान को 350 करोड़ डॉलर प्रतिवर्ष की सहायता देता आ रहा था, लेकिन अब ये मदद 70 फ़ीसदी तक कम हो चुकी है. अमेरिका के मुताबिक़ पाकिस्तान तालिबानी आतंकियों का साथ देता आया है, जिसके कारण अमेरिकी और नाटो फौजों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. अमेरिका के मदद की रकम में भारी कटौती करने से पाक अफसर बौखला गए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ अमेरिका को अब लगने लगा है कि पाकिस्तान अमेरिका से मिले पैसों का इस्तेमाल तालिबान के खिलाफ नहीं बल्कि भारत विरोधी गतिविधियां चलाने में करता आया है.

पाक सांसद को अमेरिका में घुसने की मनाही

इसके अलावा अमेरिका ने पाकिस्तानी सांसद के अमेरिका आने पर पाबंदी लगा दी है. पाकिस्तानी संसद के उपाध्यक्ष मौलाना अब्दुल गफूर हैदरी को अमेरिका ने वीजा देने से ही मना कर दिया है. जमायत उलेमा इस्लाम पार्टी के महासचिव मौलाना हैदरी को पाकिस्तान का एक बड़ा नेता माना जाता है. लेकिन अमेरिका ने इस बड़े रसूखदार पाकिस्तानी नेता का ना केवल सरकारी यात्रा का वीजा रद्द कर दिया है बल्कि अनिश्चितकाल के लिए लंबित भी कर दिया है.

मोदी के व्यक्तित्व से प्रभावित ट्रम्प

पीएम मोदी के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ बेहतर संबंधों को भी पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की वजह कहा जा रहा है. ट्रम्प ने अपने चुनाव प्रचार के दौरान मोदी को महान शख्सियत और खुद को हिंदुओं का फैन बताते हुए पीएम मोदी की तरह नारा भी दिया था “अबकी बार ट्रम्प सरकार”.

इतना ही नहीं उन्होंने अपने चुनाव प्रचार के वक़्त पाकिस्तान को बेहद खतरनाक मुल्क भी बताया था. ट्रम्प ने साफ़ शब्दों में कहा था कि पाकिस्तान ने 9/11 के बाद कई बार यूएस को धोखा दिया है और वो राष्ट्रपति बनने के बाद पाकिस्तान को उसकी हर गलती की सज़ा देंगे. अमेरिकी साप्ताहिक समाचार पत्रिका “न्यूजवीक” की रिपोर्ट के अनुसार ट्रम्प पूरी मजबूती से भारत के पक्ष में खड़े हैं.


आपको बता दें कि पाकिस्तानियों की अमेरिका में एंट्री पर रोक के मुद्दे पर व्हाइट हाउस ने आधिकारिक बयान जारी कर कहा था कि अमेरिकी सरकार जल्द ही पाकिस्तानी नागरिकों के अमेरिका आने पर रोक लगा सकती है. पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद और सारी दुनिया में बनी उसकी नकरात्‍मक छवि को उसकी वजह बताया गया था.

पाक कट्टरपंथियों और उनके हमदर्दों को अमेरिका का करारा जवाब

रिपोर्ट्स के मुताबिक़ पाकिस्तानी सांसद मौलाना अब्दुल गफूर हैदरी का सम्बन्ध कट्टरपंथी संगठन जमायत उलेमा इस्लाम JUI-F से है और जमायत उलेमा इस्लाम अपने अमेरिका विरोधी रुख के लिए मशहूर है. मौलाना हैदरी को यूएन मुख्यालय में 13 और 14 फरवरी को आयोजित अंतर संसदीय संघ की बैठक में शामिल होना था, लेकिन अमेरिका ने उन्हें वीजा देने से इनकार कर दिया. अमेरिका ने वीज़ा ना देने की वजह तकनीकी बताई और साथ ही अनिश्चितकाल के लिए लंबित भी कर दिया.

खिसियानी बिल्ली की तरह खम्बा नोच रहा पाक

अमेरिकी जानकारों के मुताबिक़ अमेरिका ने जानबूझकर इतना बड़ा कदम उठाया है. इस खबर के बाहर आते ही पाकिस्तानी के हाथ-पाँव फूल गए हैं. पाकिस्तानी जनप्रतिनिधियों ने वीज़ा रद्द किये जाने की हड़बड़ाहट में अमेरिका के बॉयकॉट करने की धमकी दे दी है. पाक सीनेट के अध्यक्ष रजा रब्बानी ने इस मुद्दे पर नोटिस जारी करते हुए पाक डेलिगेशन को न्यूयॉर्क ना जाने की सलाह तक दे डाली, जिसके बाद पाक डेलिगेशन ने अमेरिका की अपनी विजिट कैंसल कर दी.

अमेरिका के मुताबिक़ महाझूठा है पाक

ट्रम्प के राष्ट्रपति बनने के बाद ट्रंप-नवाज की बातचीत को लेकर पाकिस्तान के झूठ बोलने के कारण भी अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्तों में दरार पड़ चुकी है. अभी हाल ही में पाक प्रधानमन्त्री नवाज शरीफ के कार्यालय ने ट्रंप के साथ बातचीत का एक वक्तव्य जारी करते हुए कहा था कि डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को एक ‘अद्भुत’ देश करार देते हुए कहा कि पाकिस्तान की छवि बहुत अच्छी है और नवाज शरीफ एक शानदार इंसान हैं.

वक्तव्य में कहा गया कि ट्रम्प ने नवाज से कहा कि वो अद्भुत काम कर रहे हैं और ट्रम्प जल्द ही नवाज से मिलने की आशा कर रहे हैं. लेकिन बाद में ट्रंप की मीडिया टीम ने साफ शब्दों में बताया के ये सब पाकिस्तान का सफ़ेद झूठ है और ट्रम्प ने नवाज से ऐसा कुछ भी नहीं कहा है.


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments