Home > मुख्य ख़बरें > राष्‍ट्रपति चुनाव में पीएम मोदी के तुरुप के इक्के से कांग्रेस में खलबली, सोनिया-राहुल के छूटे पसीने

राष्‍ट्रपति चुनाव में पीएम मोदी के तुरुप के इक्के से कांग्रेस में खलबली, सोनिया-राहुल के छूटे पसीने

president-election-narendra-modi-and-nitish-kumar

नई दिल्ली : देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव ख़त्म होते ही, जुलाई में राष्‍ट्रपति चुनाव शुरू होना है. बीजेपी ने तो अभी से ही राष्‍ट्रपति पद के लिए एक अच्छे उम्‍मीदवार को ढूंढना शुरू भी कर दिया है, लेकिन राज्यसभा में बहुमत में ना होने के कारण राष्‍ट्रपति चुनाव में बीजेपी को विपक्ष की मदद लेनी पड़ेगी. अब इसी मामले से जुडी एक अहम् खबर निकल कर सामने आ रही है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ जेडीयू अध्‍यक्ष और बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने इस सिलसिले में विपक्ष को एकजुट करना शुरू कर दिया है. कहा जा रहा है कि वो राष्ट्रपति चुनाव में अहम भूमिका में नज़र आएंगे. इसके बाद से ही सुगबुगाहटें तेज हो गयीं है कि राष्ट्रपति चुनाव में वो पीएम के साथ नज़र आएंगे. हाल ही में पीएम मोदी के प्रति उनके अच्छे रुख को देखते हुए माना जा रहा है कि वो एनडीए का साथ दे सकते हैं.

गौरतलब है कि इससे पहले भी नोटबंदी के मौके पर नितीश कुमार ने तब पीएम मोदी का समर्थन किया था जब पूरा विपक्ष उनके खिलाफ खड़ा था. बताया जा रहा है कि इस खबर से सबसे बड़ा धक्का कांग्रेस को लगा है, क्योंकि नितीश कुमार के पीएम मोदी का साथ देने की स्थिति में उनका पक्ष इतना कमजोर हो जाएगा कि राष्ट्रपति चुनाव में उनकी एक ना चलेगी और मोदी अपने पसंद के उम्मीदवार को राष्ट्रपति पद पर बैठा देंगे.

यदि ऐसा हुआ तो एनडीए देश में एक बेहद मजबूत स्थिति पर नज़र आएगी. सूत्रों के मुताबिक़ नितीश इस सिलसिले में कई विपक्षी पार्टियों जैसे कि एनसीपी, सीपीएम, सीपीआई और इंडियन नेशनल लोकदल के प्रमुखों से बात भी कर चुके हैं. खबर ये भी है कि विपक्ष को डर इस बात का भी है कि कहीं बीजेपी राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की पृष्‍ठभूमि के नेता को राष्‍ट्रपति ना बना दे.

वहीँ दूसरी ओर छोटी राजनीतिक पार्टियां ये भी चाहती हैं कि राष्ट्रपति पद पर कम से कम कोई कांग्रेस का थोपा हुआ उम्मीदवार ना बैठे. फिलहाल राष्ट्रपति पद के लिए बीजेपी में लालकृष्‍ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और सुषमा स्‍वराज के नाम की चर्चा की जा रही है. ख़बरों के मुताबिक़ इन तीनों में से ही किसी एक को राष्ट्रपति बनाया जा सकता है.

अब आपकी बारी

आपके मुताबिक़ किसे इस बार राष्ट्रपति पद मिलना चाहिए? अपनी राय आप कमेंट द्वारा शेयर कर सकते हैं.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments