Home > मुख्य ख़बरें > योगी ने लिया ऐसा जबरदस्त फैसला,देखकर आपकी आँखें फटी रह जाएंगी, देखे बिना यकीन ही नहीं करेंगे आप

योगी ने लिया ऐसा जबरदस्त फैसला,देखकर आपकी आँखें फटी रह जाएंगी, देखे बिना यकीन ही नहीं करेंगे आप

yogi-truly-secular-leader

लखनऊ : पांच राज्यों के चुनाव के नतीजे आने के बाद सभी राज्यों में सरकार बन चुकी है, लेकिन इस वक़्त मीडिया में केवल एक मुख्यमंत्री छाये हुए हैं और वो हैं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ. योई आदित्यनाथ तो मानों देश के सुपर सीएम बन गए हैं. वो इतनी तेजी से काम कर रहे हैं, मानो अपने सारे वादों को केवल एक महीने में ही पूरे कर देंगे. आज उनकी एक और बड़ी खबर सामने आयी है, जिसे देख केवल यूपी में ही नहीं बल्कि देशभर के लोग उनकी तारीफें करते नहीं थक रहे हैं.

सभी समुदायों को समान अधिकार !

दरअसल मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ पिछले कई वर्षों से भारत में तुष्टिकरण की राजनीति के कारण काफी समस्याएँ सामने आयी हैं. बड़े-बड़े नेता कांग्रेस और सपा की तुष्टिकरण की नीति पर सवाल खड़े करते आये थे. देश की जनता भी इस तरह की राजनीति से कुछ ख़ास खुश नहीं दिखाई दे रही थी. ऐसे में योगी सरकार ने ऐलान किया है कि वो तुष्टिकरण की राजनीति पर ना चल कर पूरी तरह से सेक्युलर एजेंडे पर चलेंगे.

अल्पसंख्यकों की अतिरिक्त सुविधाएं होंगी खत्म!

योगी सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री ने इस विषय पर एक बड़ा बयान जारी किया है. उन्होंने कहा है कि अल्पसंख्यकों को अब ऐसे लाभ नहीं मिलेंगे जिससे समाज में उन्हें लेकर अलग धारणा बनती हो. उनके इस बयान के सामने आते ही देश में मानो सियासी भूचाल आ गया है. उनके इस बयान के बाद अब आशंका जताई जा रही है कि जल्द ही यूपी में अल्पसंख्यकों को मिल रही अतिरिक्त सुविधाओं को ख़त्म किया जा सकता है.

योगी सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री श्री लक्ष्मी नारायण चौधरी के मुताबिक़ प्रदेश में अल्पसंख्यकों को अब ऐसे लाभ नहीं मिलेंगे जिससे समाज में उन्हें लेकर अलग धारणा बनती हो. उनके मुताबिक़ अब योगी सरकार अल्पसंख्यकों को मिलने वाली ख़ास सुविधाओं की समीक्षा करेगी.

सही मायने में सेक्युलर सरकार !

जानकारों के मुताबिक़ पिछली सरकारें वोटबैंक की राजनीति की खातिर अल्पसंख्यकों को कुछ ख़ास सुविधाएं देती आयी हैं, जिन्हें देखकर ये धारणा बनती है कि इन सुविधाओं को केवल तुष्टिकरण के लिए ही दिया जाता रहा है. पीएम मोदी ने खुद चुनाव प्रचार के दौरान तुष्टिकरण की राजनीति को लेकर सपा सरकार पर निशाना साधा था. अब योगी सरकार अल्पसंख्यकों को मिलने वाली इन ख़ास सुविधाओं पर कैंची चलाने जा रही है.

लक्ष्मी नारायण चौधरी का कहना है कि मुख्यमंत्री से इस बारे में बात की जायेगी और इसपर विचार-विमर्श किया जाएगा कि समाज के सभी समुदायों को बिना किसी भेदभाव के समान अधिकार और सुविधाएं दी जाएँ. चौधरी ने ऐलान कर दिया कि योगी सरकार कब्रिस्तान और श्मशान के लिए बराबर पैसा मुहैया करवाएगी, यानी किसी को कम या ज्यादा नहीं.

पीएम मोदी ने भी लगाए थे आरोप !

उनके मुताबिक़ प्रदेश में अब तक इसमें भेदभाव होता आया है, लेकिन योगी सरकार सभी समुदायों को एक ही दृष्टि से देखेगी. धर्म, जाति या सम्प्रदाय में भेदभाव नहीं रखा जाएगा. गौरतलब है कि चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी ने सपा सरकार पर आरोप लगाए थे कि वो धर्म के आधार पर भेदभाव करती आयी है. चुनाव प्रचार के दौरान फतेहपुर की जनसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद कहा था कि गांव में अगर कब्रिस्तान बनता है तो वहां श्मशान भी बनना चाहिए. अगर रमज़ान में बिजली मिलती है तो दिवाली पर भी मिलनी चाहिए.

अब योगी सरकार ने पीएम मोदी की उस बात पर चलने का मन बना लिया है यानी अबसे यूपी में सही मायनो में “सबका साथ सबका विकास” होगा. किसी का तुष्टिकरण नहीं किया जाएगा, किसी को ख़ास सुविधाएं नहीं दी जाएंगी. जो भी होगा उसका लाभ सभी समुदायों को सामान रूप से दिया जाएगा.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments