Home > मुख्य ख़बरें > मोदी सरकार की एक और बड़ी सर्जिकल स्ट्राइक का ऐलान, देश की राजनीति में आया भूचाल

मोदी सरकार की एक और बड़ी सर्जिकल स्ट्राइक का ऐलान, देश की राजनीति में आया भूचाल

modi-govt-ban-triple-talaq

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री मोदी ने कालेधन पर सर्जिकल स्ट्राइक करके नोटबंदी कर दी थी और अब खबर आ रही है कि वो एक और सर्जिकल स्ट्राइक करने जा रहे हैं. ये खबर इतनी बड़ी है कि देश की राजनीति पर बड़े प्रभाव डाल देगी. आपको पता होगा कि देश के मुस्लिमों में ट्रिपल तलाक की एक प्रथा चली आ रही है जिसके अनुसार कोई भी मुस्लिम केवल तीन बार “तलाक, तलाक तलाक” बोल कर अपनी मुस्लिम पत्नी को तलाक दे सकता है. इस प्रथा को कुप्रथा कहते हुए मुस्लिम महिलाओं ने पीएम मोदी से इस पर रोक लगाने की मांग की थी

नोटबंदी के बाद “ट्रिपल तलाक” बंदी

और अब खुद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बयान जारी करके इस बात का ऐलान कर दिया है कि मोदी सरकार यूपी विधानसभा चुनावों के बाद ट्रिपल तलाक पर बैन लगा देगी. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रसाद ने बताया कि इस कुप्रथा के नाम पर महिलाओं का शोषण किया जाता रहा है और ये महिलाओं के सम्मान के भी खिलाफ है, इसीलिए इस पर बैन लगाए जाने की जरूरत है.

इसके साथ ही देश की राजनीति में कोहराम मच गया है. खुद को मुसलामानों का सबसे बड़ा हमदर्द कहने वाली कांग्रेस ने इस मुद्दे पर राजनीति करनी शुरू कर दी है. गौरतलब है कि यूपी में चुनाव होने को हैं, ऐसे में सभी पार्टियां अब खुद को मुसलामानों का हमदर्द दिखाकर बीजेपी के विरोध में उतर आयी हैं. वोटबैंक की राजनीति अपने चरम पर पहुच गयी है.

आपको बता दें कि इस प्रथा पर तो पाकिस्तान में भी प्रतिबन्ध लगा हुआ है. ऐसे कई मुस्लिम देश हैं जहां इस प्रथा को नहीं माना जाता है. लेकिन भारत में तो ऐसी ख़बरें भी आती रहती हैं जहां शौहर ने अपनी पत्नी को फेसबुक, व्हाट्सएप्प और एसएमएस में तीन बार तलाक लिख के तलाक दे दिया. केंद्रीय कानून मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ‘समाज के कुरीतियों’ को खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है. प्रसाद के मुताबिक, ट्रिपल तलाक का मामला धर्म से जुड़ा हुआ नहीं है बल्कि यह मामला तो देश की महिलाओं के सम्मान से जुड़ा हुआ है.


प्रसाद ने कहा कि मोदी सरकार आस्था का सम्मान करती है, लेकिन प्रथा और सामाजिक बुराई एक साथ नहीं रह सकती. प्रसाद ने कहा कि बीजेपी ही एक ऐसी पार्टी हैं, जो स्त्रियों का सम्मान करती है. अन्य पार्टियां न तो उन्हें ठीक जगह देती हैं और न स्त्रियों का सम्मान करती हैं.

ये भी पढ़िए‘ट्रिपल तलाक’ द्वारा मौलवी करते हैं ‘हलाला’ का धंधा – इस्लामिक धर्मगुरु

ये भी पढ़िए : जन्नत से जहन्नुम बन गयी जिंदगी, 20 वर्ष की आयु में दो निकाह, दो शौहर …और तीन तलाक


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।

हमारे साथ सीखिए ब्लॉग लिखना और घर बैठे कमाइए पैसे. तीन दिन का कोर्स ज्वाइन करने के लिए 9990166776 पर Whatsapp करें.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments