Home > मुख्य ख़बरें > क्रिकेट छोड़िए… यूपी में पीएम मोदी के बाउंसर देखिए… 6 बॉल पर उखाड़े 6 विकेट !

क्रिकेट छोड़िए… यूपी में पीएम मोदी के बाउंसर देखिए… 6 बॉल पर उखाड़े 6 विकेट !

modi-lakhimpur-rally

लखनऊ : यूपी विधानसभा चुनाव के दूसरे दौर के मतदान के लिए चुनाव प्रचार का आज आखिरी दिन है. दूसरे दौर के मतदान से पहले प्रधानमन्त्री मोदी अपनी फुल फॉर्म में नज़र आये. लखीमपुर से उन्होंने अखिलेश यादव और कांग्रेस पर एक के बाद एक कई बाउंसर फेंके. लखीमपुर की अपनी रैली में पीएम मोदी का अंदाज इतना उग्र रहा कि अखिलेश और राहुल के भी पसीने छूट जाएं.

अखिलेश के काम नहीं बल्कि कारनामे बोलते हैं

पीएम मोदी ने अखिलेश सरकार के “काम बोलता है” नारे की बुरी तरह से धज्जियां उड़ाते हुए उनकी पोल खोल के रख दी. अपनी रैली में मोदी बोले कि यूपी में विकास ठप्प पड़ा है और अखिलेश जी कहते हैं कि यूपी में काम बोलता है. उन्होंने कहा कि यूपी में अखिलेश के काम नहीं बल्कि समाजवादी पार्टी के कारनामे बोलते हैं. पीएम मोदी ने तीख हमला करते हुए अखिलेश को चुनौती तक दे डाली.

उद्घाटन करना विकास नहीं होता

पीएम मोदी ने कहा कि जिस लखनऊ मेट्रो का उद्घाटन अखिलेश ने किया है उसमें अखिलेश उनके साथ सफर करें. केवल स्टेशन बनवा दिए हैं लेकिन मेट्रो नहीं चलाई. पीएम मोदी ने मेदांता अस्पताल के उद्घाटन पर भी अखिलेश की चुटकी लेते हुए कहा कि वो अखिलेश के साथ मेदांता अस्पताल में ब्लडप्रेशन चेक कराने के लिए तैयार हैं यानी उदघाटन तो हुआ है लेकिन काम इतना भी शुरू नहीं हुआ कि कोई वहां अभी तक ब्लडप्रेशन भी चेक नहीं करा सकता.

गौरतलब है कि अखिलेश सरकार ने मेट्रो और हाईवे के निर्माण के आधार पर ही “काम बोलता है” का नारा दिया था. लेकिन पीएम मोदी ने उनकी पोल खोलते हुए उनके नारे की धज्जियां उड़ा के रख दी. पीएम मोदी ने तंज कसते हुए कहा, अखिलेश जी केवल उद्घाटन कर देने भर से प्रदेश का विकास नहीं होता है.

यूपी की बेहाल क़ानून व्यवस्था

उत्तर प्रदेश की लचर कानून व्यवस्था पर भी प्रधानमन्त्री मोदी ने करारा हमला बोलते हुए कहा कि शाम होने पर यूपी में माताओं और बहनों का घर से बाहर निकलना तक दूभर हो चुका है. प्रदेश में माताओं और बहनों के साथ जिस प्रकार से अपराध हो रहे हैं क्या वही काम बोलता है? पीएम मोदी बोले कि उत्तर प्रदेश में काम नहीं बल्कि समाजवादी पार्टी के बाहुबली लोगों के पाप और कारनामे बोलते हैं.

यूपी में आए दिन माताओं और बहनों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं हो रही है, मर्डर की घटनाएं हो रही हैं. पीएम मोदी बोले कि यूपी में तो गैंगस्टर को जेल का भी कोई डर नहीं, वो तो जेल के अंदर से ही अपना गैंग चलाते हैं. ये अखिलेश का काम है या फिर उनके कारनामे हैं?

2014 की हार से भी सबक नहीं लिया

मोदी ने तंज कसते हुए कहा कि श्रीमान अखिलेश जी खतरे की घंटी तो आपके लिए उसी दिन बज गयी थी जब 2014 के लोकसभा चुनावों में यूपी की जनता ने आपका सफाया कर दिया था, 2014 चुनावों के बाद आपको ढाई साल मिले, अच्छा होता कि आप जनता का कुछ भला करते, अपनी छवि ठीक करते, गुंडागर्दी को ठीक करते, किसानों के कल्याण के लिए जमीन स्तर पर कुछ काम करते.

काहे के समाजवादी? मौकापरस्त हैं जी

मोदी ने तीखा हमला करते हुए कहा कि अखिलेश ने डर के मारे कांग्रेस से गठबंधन कर लिया. 2014 में उनका परिवार भी एक साथ था, कोई बड़े पारिवारिक मतभेद नहीं थे, उस वक़्त तक अखिलेश की छवि भी ठीक थी, जनता को लगा था कि ये पढ़ा-लिखा नौजवान है प्रदेश के लिए कुछ करेगा लेकिन 2014 में हार के बाद लोगों का भला करने की जगह अखिलेश जोड़-तोड़ में लग गए, गठबंधन के कारोबार में लग गए और ऊपर से परिवार भी बिखर गया इसलिए हार के डर से कांग्रेस की शरण में पहुच गए. जो राम मनोहर लोहिया आजीवन कांग्रेस के खिलाफ लड़ते रहे, जो राम मनोहर लोहिया के चेले-चपाटे जीवन भर चना मंगरा खा करके कांग्रेस से लड़ते रहे, उसी कांग्रेस से गठबंधन करके राम मनोहर लोहिया को आपने अपमानित किया, जय प्रकाश नारायण को आपने अपमानित किया, केवल अपनी कुर्सी बचाने के लिए आप कांग्रेस की गोद में जाकर बैठ गए.

पीएम मोदी ने जनता से अपील करते हुए कहा कि उन्हें इस बार मौका दिया जाए, अगर 6 महीनों के अंदर वो अपराधियों को सलाखों के पीछे ना पहुचा दें तो कहना. उन्होंने कहा कि दिल्ली में बैठा आपका भाई आपकी सेवा करना चाहता है, एक मौका दीजिए. अपनी रैली में पहली बार उन्होंने खुल कर मायावती पर भी हमला बोला.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments