Home > मुख्य ख़बरें > कश्मीर से आयी ये बेहद शर्मनाक खबर पढ़कर आपके पैरों तले जमीन खिसक जायेगी, आतंकियों के…

कश्मीर से आयी ये बेहद शर्मनाक खबर पढ़कर आपके पैरों तले जमीन खिसक जायेगी, आतंकियों के…

farooq-abdullah-supports-stone-pelters

नई दिल्ली : पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद से जूझ रहे कश्मीर में आये-दिन आतंकी हमले होते आ रहे हैं. जब सेना की ओर से आतंकी हमलों को रोकने और आतंकियों को ख़त्म करने की कोशिश की गयी तो कश्मीर के पत्थरबाज बीच में पत्थर फेक कर आतंकियों के समर्थन में उतर आये जिसके कारण भारत के कुछ जवानो की जान तक चली गयी. पत्थरबाजों पर अंकुश लगाने के लिए जब सेना प्रमुख बिपिन रावत ने पत्थरबाजों पर सख्ती बरतने के निर्देश दिए तो कश्मीरी पत्थरबाजों और आतंकियों के समर्थन में जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला खुद उतर आये.

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्लाह ने सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत पर पलटवार कर दिया है, उन्होंने कश्मीरी युवाओं को भड़काते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर के युवा कोई गलत काम नही करते, वो तो केवल अपने हक के लिए लड़ते है. इसके आगे उन्होंने कहा कि कश्मीरी युवा सेना की बन्दूको से डरने वाले नही है.

गौरतलब है कि सेना प्रमुख ने सुरक्षाबलों को कश्मीर के पत्थरबाजों पर कड़ी कार्यवाही के लिए कहा था. इसी के चलते फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि हमारे युवाओ को बंदूकों से डर नही लगता. उन्होंने कश्मीरियों को भड़काते हुए कहा कि कश्मीर के युवाओ पर सेना की धमकियों का कोई असर नही होने वाला है. उन्होंने कहा कि कश्मीरी युवा जम्मू-कश्मीर को आजाद करवाना चाहते हैं और इसके लिए वो अपने हक की लड़ाई लड़ रहे है और कुर्बान हो रहे है. उन्होंने पत्थरबाजों की हरकतों को उनके धर्म से जोड़ने वाले भी कई बयान दिए.

फारुख अब्दुल्ला के इस बयान के बाद से लोगों का गुस्सा फुट पड़ा है. लोगों ने कहा कि कुछ लोग अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का नाजायज फायदा उठा रहे हैं और इसका इस्तेमाल देश विरोधी गतिविधियों में कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर लोगों ने सरकार से फारुख अब्दुल्ला को गिरफ्तार करके देशद्रोह का केस चलाने तक की मांग की.

ऐसा पहली बार नहीं है जब फारूक अब्दुल्ला ने देश विरोधी बयान दिया है. कुछ ही वक़्त पहले भी उन्होंने पीओके पर भारत के दावे को लेकर उन्होंने कहा था कि ‘क्या ये तुम्हारे बाप का है, मौजूदा वक्त में ये पाकिस्तान के कब्जे में है’. उस वक़्त उन्होंने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि ‘पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर भारत को बाप-दादाओं की तरफ से मिली जायदाद नहीं है. इसलिए भारत कश्मीर पर अपना दावा नहीं कर सकता.’ उस वक़्त फारूख के बेटे और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला भी वहां उपस्थित थे.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments