Home > मुख्य ख़बरें > ब्रेकिंग- यूपी में भूचाल, योगी ने संविधान के खिलाफ जाकर लिया एक्शन !

ब्रेकिंग- यूपी में भूचाल, योगी ने संविधान के खिलाफ जाकर लिया एक्शन !

yogi-adityanath-congress

नई दिल्ली : यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूरी तत्परता के साथ अपनी जिम्मेदारियों का वहन करने में लगे हुए हैं. उनके द्वारा लिए जा रहे बड़े-बड़े फैसलों से जहां एक ओर राज्य की जनता की ख़ुशी का कोई ठिकाना ही नहीं है, वहीँ दूसरी ओर कांग्रेसी नेताओं को ये सब कुछ हजम नहीं हो रहा है.


योगी ने संविधान के खिलाफ जाकर लिया एक्शन ?

आज लोकसभा में कांग्रेस की सांसद रंजीत रंजन ने योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि, “यूपी में यादव व् कुछ अन्य जातियों को निशाना बनाया जा रहा है.” इसके साथ-साथ उन्होंने राज्य में ‘रोमियोरोधी’ दस्ते के गठन पर भी प्रश्न खड़े करते हुए कहा कि, “एक आईपीएस अधिकारी का कहना है कि यूपी में एक खास जाति को निशाना बनाया जा रहा है.”

इन्होंने कहा कि, “यूपी में जिस तरह से यादवों, मुस्लिमों और दलितों के खिलाफ नफरत फैलाई जा रही है, वो देश के संविधान के खिलाफ है. इससे पूरे उत्तर प्रदेश में भूचाल सा आ गया है.”

वहीँ गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सदस्यों को आश्वासन देते हुए कहा कि प्रदेश में जाति के आधार पर कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का भी यही कहना है कि यूपी में जाति, पंथ या धर्म के आधार पर कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा.

कांग्रेस के खिलाफ गुस्से में आये लोग !

वहीँ लोगों का कहना है कि तुष्टिकरण की राजनीति के चलते कांग्रेस को मानसिक दिवालियापन हो गया है. उसे अपराधियों में भी जाति और धर्म दिखाई देते हैं. लोगों ने ट्वीट करके कहा कि बीजेपी शासित प्रदेशों में कहीं कोई दुर्घटना हो जाए या पुलिस व् प्रशासन किसी अपराधी के खिलाफ कार्यवाही करे तो राजनीति से प्रेरित कांग्रेस फ़ौरन उसमे जाति व् धर्म तलाशने लगती है और यदि दुर्घटना में कोई दलित या मुस्लिम मारा गया है या पुलिस ने किसी ऐसे अपराधी को गिरफ्तार कर लिया है जो दलित या मुस्लिम हो तो कांग्रेस तुरंत उसे जाति व् धर्म से जोड़कर घटिया राजनीति करने लगती है.


वहीँ कुछ अन्य लोगों ने ट्वीट करके लिखा कि जनता ने कांग्रेस को बुरी तरह से नकार दिया है, जहाँ-जहाँ वो चुनाव लड़ रही है वहां-वहां उसे मुह की खानी पड़ रही है लेकिन फिर भी उसे अक्ल नहीं आ रही है इसलिए 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पूरी तरह से साफ़ हो जायेगी.

“रोमियोरोधी दस्ते” से भी तकलीफ !

वहीँ 2010 बैच के भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी हिमांशु कुमार ने भी इस मुद्दे पर एक ट्वीट किया. हिमांशु फिलहाल लखनऊ के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) कार्यालय में पदास्थापित हैं. हिमांशु ने अपने ट्वीट में लिखा कि, “यादव” उपनाम वाले लोगों को निशाना बनाया जा रहा है. लेकिन इस पर होने वाली प्रतिक्रियाओं को देखकर बाद में उन्होंने उस ट्वीट को डिलीट कर दिया.

इसके बाद कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने यूपी सरकार के “रोमियोरोधी दस्ते” पर भी निशाना साधा और कहा कि, “किस अधिकार से वो लड़के और लड़कियों को साथ चलने से रोक रहे हैं? उन्होंने कहा कि यदि भाई और बहन भी साथ चलें तो उन्हें भी संदेह की दृष्टि से देखा जा रहा है.”

उन्होंने कहा कि वो अश्लीलता के खिलाफ हैं लेकिन, “क्या प्यार करना जुर्म है? क्या अब गर्लफ्रेंड और ब्यायफ्रेंड बनना भी जुर्म हो गया है? क्या अब सरकार फैसला करेगी कि पार्क में किस तरीके से बैठना है?”


इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल


हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments