Home > मुख्य ख़बरें > चारों ओर अव्यवस्था देख गुस्से में आये सीएम योगी ने दिए हाहाकारी आदेश, सरकारी महकमों में हड़कंप

चारों ओर अव्यवस्था देख गुस्से में आये सीएम योगी ने दिए हाहाकारी आदेश, सरकारी महकमों में हड़कंप

yogi-adityanath-biometric-systm

लखनऊ : यूपी के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के कुशल विकास व् व्यवस्था के लिए जी-जान से जुटे हुए हैं. इसी के चलते अब उन्होंने सरकारी विभागों व् दफ्तरों में अनुशासनहीनता पर नकेल कसने की ठान ली है. अक्सर शिकायत आती रही है कि सरकारी विभागों में काम करने वाले कुछ कर्मचारी सही वक़्त पर दफ्तर नहीं आते, या फिर आने के बाद दफ्तर से गायब हो जाते हैं. इसपर व्यापक सुधार के लिए मुख्यमंत्री ने सख्त कदम उठाया है.

बायोमीट्रिक प्रणाली और सीसीटीवी कैमरे !

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के सभी सरकारी दफ्तरों में कर्मचारियों की हाजिरी दर्ज किए जाने की व्यवस्था में बड़ा बदलाव लाते हुए बायोमीट्रिक प्रणाली लागू करने के निर्देश दे दिए हैं. इसके अलावा सरकारी दफ्तरों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश भी जारी किए हैं. योगी ने फैसला कर लिया है कि वो सरकारी बाबुओं की आदतें सुधार के ही रहेंगे.

शुक्रवार को योगी शास्त्री भवन के सभागार में अपने मंत्रियों और अधिकारियों के साथ मीटिंग के दौरान काम-काज की समीक्षा कर रहे थे. इसी मीटिंग में उन्होंने फैसला किया कि सरकारी दफ्तरों में सही-सही उपस्थिति दर्ज कराने के लिए बायोमीट्रिक व्यवस्था लागू की जाए और साथ ही सभी विभागों में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाएं, ताकि हाजिरी लगाकर अनुपस्थित होने की प्रवृत्ति पर भी अंकुश लगाया जा सके.

इससे पहले भी वो ऐसे कुछ कड़े फैसले ले चुके हैं, जिनके तहत अबसे सभी सरकारी कर्मचारी सही वक़्त पर दफ्तर आएंगे और बायोमीट्रिक प्रणाली से अपनी उपस्थिति दर्ज करवाएंगे. दफ्तर में फॉर्मल कपडे पहनकर ही आना होगा. सीसीटीवी नज़र रखेंगे कि कोई हाजिरी लगाकर गायब ना हो जाए. दफ्तर में पान, पान मसाला व् गुटखा खाना निषेध. उन्हें दिए गए काम पर कड़ी नज़र रखी जायेगी ताकि कोई भी काम लटका ना रह पाए और समय पर सभी काम पूरे हों.

प्रधानमंत्री आवास योजना और कांशीराम आवास योजना !

योगी ने अफसरों से कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अबतक जो लापरवाही हो चुकी है, उसे छोड़कर सही व्यवस्था की जाए ताकि जनता को इस योजना का पूरा-पूरा लाभ मिल सके. योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना को लेकर असहयोगात्मक रुख अख्तियार किया गया जिसके कारण आम जनता को इसका कुछ ख़ास लाभ नहीं पहुचा. उन्होंने निर्देश दिए कि इस सम्बन्ध में तत्काल सुधार किये जाएँ.

इसके साथ ही योगी ने निर्देश दिए कि इस कार्य को नगर विकास विभाग से लेकर आवास विकास विभाग को दे दिया जाए, ताकि आम जनता तक सही तरीके से इस योजना का लाभ पहुच सके. इसी के साथ योगी ने निर्देश दिए कि कांशीराम आवास योजना के अधूरे आवासों का काम जल्द से जल्द ख़त्म किया जाए और साथ ही इन आवासों को पारदर्शी ढंग से प्राथमिकता के आधार पर आवासहीनों में आवंटित करने के लिए कार्य योजना भी तैयार की जाए.

सचिवालय की अभेद्य सुरक्षा !

सचिवालय की सुरक्षा के लिए फैसला लेते हुए योगी ने सचिवालय में प्रवेश के लिए अनावश्यक एवं गैर जरूरी निर्गत किए गए प्रवेशपत्र को तत्काल निरस्त करने के आदेश दिए. योगी ने कहा जैसे संसद में सख्त सुरक्षा व्यवस्था है, ठीक वैसे ही सचिवालय की सुरक्षा व्यवस्था को भी सख्त किया जाए. जैसे संसद में कोई गैर-आधिकारिक व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सकता, ठीक वैसे ही सचिवालय में भी गैर-आधिकारिक व्यक्तियों व् दलालों का प्रवेश वर्जित हो.

इस न्यूज़ को अपने मित्रों के साथ शेयर करना न भूलें। आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं।
हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें


फेसबुक पेज लाइक करें

loading...

Comments